भक्तिभाव से की मां की स्थापना

अशोकनगर। देवी मां के नवरात्र महापर्व की शुरूआत शनिवार को भक्तिभाव से हुई शहर में लगभग 60 से अधिक स्थानों पर कोरोना महामारी के बाद भी स्थापित की जा रही है। झांकियों के इन आयोजनों को लेकर श्रद्धालुओं को भक्तिभाव से माता की प्रतिमाएं झांकी स्थकल तक ले जाते हुए देखा गया। घर-घर में भी माता की स्थापना की गयी। आस्था, भक्ति और आराधना के इस महापर्व को लेकर नवरात्रि महापर्व में श्रद्धालु माता की भक्ति करने में लग गए है। इस बार 9 दिवसीय यह महापर्व विधानसभा उपचुनाव की बेला में और कोरोना महामारी के बीच मनाया जा रहा है। इस कारण राजनैतिक दलों के लोग भी अभी से धार्मिक आयोजनों का हिस्सा बनने की तैयारियों में लग गये है। शहर में मनाए जाने वाले सारे पर्वों में यह सबसे बडा पर्व है। पूरा शहर मां की भक्ति में डूब जाता है। घर-घर से देवी मां की आराधना के स्वर सुनाई पडने लगे है। घट स्थापना के पहले दिन शहर के लोगों ने माता की स्थापना की। दूसरी ओर झांकियों में माता का दरबार सजाया गया है। अधिकांश झांकियों में देर रात घट स्थापना की गयी।

17 से 25 अक्टूबर तक यह पर्व मनाया जा रहा है। कोरोना महामारी के चलते झांकी आयोजकों ने भी श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरण न करने का निर्णय लिया है और फिजिकल डिस्टेंसिंग के विशेष प्रबंध किए गए है। जिंदबाबा समिति की ओर से इस बार भी माता की झांकी सजाई गई है। देवीमां की प्रतिमा जबलपुर से लायी गयी है। इस बार यह 32वां वर्ष है। देवी मां को 2 किलो चांदी का मुकुट और 4 तौला सोने में बेंदी, बिंदी और बारी बनवाई गई है। देवी मां को विराजित करने के लिए तीन मंजिला पांडाल पूरी तरह बांस से तैयार कराया गया है जिसमें 350 बांस का उपयोग हुआ है।

फोटो179सी- देवीमां की प्रतिमा को ले जाते हुए झांकी आयोजक।

फोटो179डी- देवीमां को 2 किलो चांदी का मुकुट और 4 तौला सोने के आभूषण पहनाए गए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020