जिला स्तरीय प्रांतीय ओलंपिक प्रतियोगिता का शुभारंभ

फोटो139ए- खेल प्रतियोगिता के शुभारंभ पर पहुंचे प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया।

फोटो139बी- कबड्डी प्रतियोगिता में युवक अपना प्रदर्शन करते हुए।

फोटो139सी- विजेता खिलाड़ियों को पुरस्कार प्रदान किए गए।

अशोकनगर।नवदुनिया प्रतिनिधि

मध्यप्रदेश शासन के श्रममंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया ने अशोकनगर जिला मुख्यालय के संजय स्टेडियम में गुरूनानक देवजी की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित जिला स्तरीय प्रांतीय ओलंपिक खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए कहाकि खेल के प्रति युवाओं को नई ऊर्जा प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार कटिबद्ध है। खिलाड़ियों को खेल संबंधी सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। युवा एवं बच्चे खेल के प्रति रुचि लें और अपने क्षेत्र जिला, प्रदेश तथा देश का नाम रोशन करें।

उन्होंने कहा कि खेल प्रतियोगिता के माध्यम से होनहार खिलाड़ियों को अवसर प्रदान किए जा रहे हैं। खिलाड़ियों को हमेशा खेल भावना से खेलना चाहिए। उन्होंने इसी प्रकार की प्रतियोगिताएं तहसील स्तर पर कराये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में निर्माणाधीन आउटडोर एवं इंडोर स्टेडियम की बाउंड्रीवॉल के निर्माण कराये जाने के संबंध में कहा कि इस संबंध में शीघ्र ही प्रदेश के खेल मंत्री से चर्चा कर राशि उपलब्ध कराई जाएगी। इस मौके पर उन्होंने कहाकि हमेशा खेल, खेल भावना के साथ ही खेला जाना चाहिए। जो भी खेल खेला जाये उसके अंदर स्पर्धा तो हो सकती है किन्तु हार-जीत के मामले को व्यक्तिगत रूप से नहीं लेना चाहिए। खेल भाईचारे के साथ खेले जाएं। कहा जाता है कि जो जीता, वहीं सिकंदर। इसलिए जीतने वालों को पुरस्कार दिया जाता है। खेलों को हमेशा दिमाग से खेलना चाहिए। कहां दिमाग की जरूरत है उसका उपयोग किया जाना चाहिए। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी और खेलों के क्षेत्र में उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

इस मौके पर अशोकनगर के विधायक जजपाल सिंह ने भी संबोधित करते हुए कहाकि यहां खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है। हमारे खिलाड़ी देश के भीतर और बाहर से भी विजय होकर अशोकनगर का नाम रोशन करके आते है। सभी खिलाड़ियों को खेल भावना के साथ अच्छी शिक्षा की ओर ध्यान देना चाहिए। मुंगावली विधायक बृजेन्द्र सिंह यादव ने कहाकि खेल ताकत से नहीं खेला जाता। खेल भावना के साथ खेला जाना चाहिए, खेलों से शरीर स्वस्थ रहता है। हार-जीत अपनी जगह है। कोई जीतता है तो कोई हारता है। परन्तु हारने वाले को जीतने का प्रयास करते रहना चाहिए। चंदेरी विधायक गोपाल सिंह चौहान भी मंच पर मौजूद थे। इस दौरान खेल प्रशिक्षक अरूण रघुवंशी ने जिले के प्रभारी मंत्री को तीनों विधायकों की ओर से एक ज्ञापन सौंपते हुए कहाकि अशोकनगर जिला मुख्यालय पर जो आउटडोर और इनडोर स्टेडियम बनाया जा रहा है उसके लिए बाउंड्रीवाल की मांग रखी तथा ध्यान आकर्षित करते हुए कहाकि 6 बीघा जमीन में यह इंडोर और आउटडोर खेलों के लिए भवन बन रहा है किन्तु भवन में राशि की कमी के कारण यह पूरा नहीं हो रहा है। इस ओर अधिकारियों द्वारा भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

खिलाड़ियों को किया पुरस्कृत

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया द्वारा विभिन्न प्रतियोगिताओं खो-खो, फुटबाल, बॉलीवाल, कुश्ती, कबड्डी, गोला फेंक, ऊंची कूद, रस्साकसी के विजेता एवं उप विजेताओं को शील्ड एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। इससे पहले संजय स्टेडियम में कबड्डी प्रतियोगिता छात्र-छात्राओं के बीच होती हुई देखी गई। यह प्रतियोगिता 16 वर्ष से अधिक आयु के बच्चों के लिए आयोजित की गई थी। जिले के चारों ब्लाकों से टीमें जिला स्तरीय स्पर्धा में भाग लेने के लिए अशोकनगर पहुंची थी। इस दौरान शुरूआती तौर में प्रतियोगिताओं के शुभारंभ के दौरान विधायक जजपाल सिंह ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया। इस दौरान अनमोल जैन, करिश्मा बोहरे, विभूति दुबे, मानसी रघुवंशी, शिल्पा राठौर को तीन हजार रूपये की राशि एवं प्रमाणपत्र प्रदान किए गए। इन सभी 5 उत्कृष्ट कराते खिलाड़ियों का सम्मान किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network