बालाघाट। (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नौकरी और रुपयों का लालच देकर ग्रामीणों से मतांतरण कराने के प्रयास करने का मामला सामने आया है। यह मामला रविवार शाम का बालाघाट जिले के रामपायली के गर्रा गांव का है। गांव में ग्रामीणों की धार्मिक भावनाओं को आहत कर नौकरी और रुपयों को लालच देकर मतांतरण के लिए करीब 25 लोग बरगला रहे थे।

इसकी जानकारी विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को मिली तो वे तत्काल मौके पर पहुंचे को मिली तो उन्होंने गांव में जाकर धर्म का दुष्प्रचार कर ग्रामीणों को बहकाने वाले लोगों का विरोध कर मतांतरण रुकवाया। साथ ही इसकी इसकी शिकायत रामपायली थाने में दर्ज कराई। पुलिस ने सात के खिलाफ मामला दर्ज किया और पांच लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया है।

गांव में पहुंचकर करवा रहे थे मंतातरण

गर्रा निवासी लक्ष्मीचंद पटले ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि रविवार देर शाम करीब दो दर्जन लोग गांव पहुंचे और ग्रामीणों को हमारे धर्म को गलत बताकर प्रचार कर रहे थे,साथ ही नौकरी और रुपयों का ग्रामीणों को लालच देकर मतांतरण करा रहे थे।

इधर विश्व हिंदू परिषद जिला सत्संग प्रमुख बसंत बघेले ने बताया कि गर्रा गांव में मतांतरण कराने का प्रयास गजेंद्र दास पटले लालबर्रा, भोजराज शोभेलाल दीनी, विजयदास पंचेश्वर मेंहदीवाड़ा, पवनदास सिरपुर, मनोज दास राहंगडाले गर्रा, राजेंद्र डहाके लिंगमारा, सुरज पंचेश्वर समेत करीब 25 लोग गांव में पहुंचकर सनातन धर्म के खिलाफ प्रचार कर मंतातरण कर रहे थे। हमें जानकारी मिली तो मौके पर पहुंचे और मतांतरण का विरोध कर उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

इनका कहना है

गर्रा के ग्रामीणों में एक धर्म विशेष के देवी-देवताओं को अपशब्द लिखने और उन्हें गलत बताने के मामले में पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ नामदज अपराध दर्ज किया है। उनसे कुछ किताबें अन्य धर्म से जुड़े लोगों की किताबें भी जब्त की है। पांच लोगों के बयान लिए हैं। और पूछताछ की जा रही है। मतांतरण का मामला है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। चार लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया है।

- अरुण सोलंकी, टीआइ, रामपायली बालाघाट

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local