बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अच्छे पौधे क्या होते हैं, इसके मायने वहीं जान पाते हैं। जिनका पर्यावरण से लगाव होता है और जो बुजुर्गों की तरह पौधे पालते हैं। वैसे तो वृक्ष हरियाली के पालक मानें जाते हैं, लेकिन उन्हें पालने के लिए उनकी देखभाल के लिए हर समय मानवीय प्रयासों की भूमिका अहम्‌ रही है। पौधे को वृक्ष का रूप देने में मानव समुदाय का अहम्‌ योगदान रहा है। यही वजह रही है कि पेड़ों की छाव और फल दोनों ही कई पीढ़ियों से लोगों के काम आते रहे हैं। फलदार वृक्ष जमीन की तरह संपत्ति से कम नहीं होते हैं। ये विपत्ति के समय में भी काम आते हैं और खुशी के अवसर में खुशहाली देने वाले होते हैं। डॉ.एपी गाढ़े की मानें तो प्रकृति ने सभी को जीने के लिए जो ऊर्जा दी है, उसमें सबसे बड़ा योगदान हरियाली का है। पर्यावरण संरक्षण के पौधरोपण जितना जरूरी है,उतना ही वृक्षों को कटने से रोकना भी है। उनका कहना है कि अपने जीवन में वे करीब 5 हजार से अधिक पौधे लगा चुके हैं। पेशे से इंजीनियर रहे डॉ.एपी गाढ़े सेवानिवृत होने के बाद पौधरोपण कर वीरान श्मशान को एक सुंदर पार्क का रूप दे चुके हैं। इसी प्रकार पेशे शिक्षक कमल किशोर सोनी ने करीब 60 प्रजाति के 500 से अधिक पौधे लगाकर स्कूल के मैदान को गार्डन का रूप दिया है। एक सर्वे के मुताबिक 10 फीसदी लोग ही ऐसे पाए गए हैं। जिनका हरियाली के प्रति लगाव है,जो इस दिशा में पूरी निष्ठा से अपनी जिम्मेदारी समझकर काम कर रहे हैं। जबकि 60 फीसदी लोग ऐसे हैं। जो जागरूक तो हैं,लेकिन पर्यावरण के संरक्षण और हरियाली फैलाने में कोई योगदान नहीं दे पा रहे हैं। इनमें ज्यादातर 45- 50 वर्ष की आयु वर्ग के लोग शामिल हैं। 20 फीसदी बुजुर्ग ऐसे भी हैं,जिनने पौधे भले ही कम लगाए हों,लेकिन उन्हें कटने भी नहीं दिया। हालांकि बालाघाट में एक युवा भी वृक्षों को कटने से रोकने के लिए डटकर काम कर रहा है। पीपुल्स फॉर एनीमल बोर्ड के सदस्य अभय कोचर ने करीब 3 हजार से अधिक वृक्षों को कटने से रोका है। गोंगलई बाइपास सड़क निर्माण के दौरान करीब 9 वृक्ष और लालबर्रा सड़क निर्माण में करीब 11 सौ वृक्षा शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan