Balaghat Aircraft crash: बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के किरनापुर के भक्कूटोला के जंगल में ट्रेनी एयरक्राफ्ट के दुर्घटनाग्रस्त होने की जांच करने सोमवार को मुंबई का तीन सदस्यीय जांच दल घटनास्थल पहुंचा। टीम ने घटना के संबंध में साक्ष्य और डाटा जुटाया है।

डायरेक्टर जनरल सिविल एविएशन (डीजीसीए) मुंबई की टीम ने सौ फीट गहरी खाई में बिखरे विमान के मलबे से जरूरी उपकरण, रीडिंग बाक्स, काकपिट के अंदर सिग्नल जैसी जानकारियां एकत्र कीं। जांच की रिपोर्ट तीन से चार दिन में आ सकती है।

बिरसी एयरपोर्ट के इंचार्ज शफीक शाह ने बताया कि टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर विमान के उड़ान की दिशा, दुर्घटना से पहले उसकी गति, पेड़ अथवा चट्टान से टकराने का कितना प्रभाव था आदि का आकलन किया है। रीडिंग बाक्स यदि सुरक्षित होगा, तो उसमें ट्रेनी एयरक्राफ्ट की आखिरी समय में स्पीड की जानकारी मिल जाएगी।डाटा रिकार्डर जमा किए हैं।

उन्होंने बताया कि पुलिस के पास सुरक्षित रखे गए विमान के ब्लैकबाक्स को टीम को सौंप दिया है। कागजी जांच, घटनास्थल पर साक्ष्य व ब्लैक बाक्स में पायलट व ट्रेनी पायलट के बीच हुई बातचीत की सूक्ष्मता के साथ जांच के बाद ही हादसे के कारण स्पष्ट हो पाएंगे।

जांच दल घटनास्थल से जानकारियां जुटाकर मुंबई के लिए रवाना हो गया है। शनिवार को हुए हादसे में गुजरात के कच्छ में रहने वाली महिला ट्रेनी पायलट व्रूशंका मोहश्वरी और हिमाचल प्रदेश के प्रशिक्षक पायलट मोहित ठाकुर की मौत हो गई थी

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

Mp
Mp