वारासिवनी। नईदुनिया न्यूज।

नगर में स्थित मस्जिदों में मोहर्रम की दसवीं तारीख यानी मंगलवार को यौमे आशूरा पर्व पर विशेष नमाज अदा कर लंगर ए आम का आयोजन किया गया। जिसमें नगर में स्थित जामा मस्जिद में मौलाना अब्दुल खालिक व ख्वाजा गरीब नवाज मस्जिद में मौलाना अब्बू तला द्वारा मुस्लिम धर्मावलंबियों से यौमे आशूरा की विशेष नमाज अदा कराई गई। इस मौके पर आशूरा के दिन के महत्व पर विस्तार से बताया गया कि यह दिन धार्मिक मान्यताओं के आधार पर बहुत महत्व रखता हैं, क्योंकि इस दिन अनेकों प्रकार की इस्लामिक घटना घटित हुई थी। जिसमें इस्लाम की सबसे बड़ी घटना थी कि इसी दिन हजरत इमाम हुसैन अपने परिवार सहित कर्बला में धर्म व इंसानियत को बचाने के लिए शहीद हो गए थे। इसके बाद सभी मुस्लिम बंधुओं द्वारा सामूहिक रूप से अमनो अमान की दुआएं मांगी गई।

मुस्लिम धर्मावलंबी अपने मरहूम परिजनों को याद करने के लिए कब्रिस्तान पहुंचे और वहां पर दुआएं मांग कर उन्हें याद किया। मुसलमान भाइयों ने इस दिन रोजा रखा, मुस्लिम बंधुओं द्वारा सेहरी और अफ्तार का आयोजन किया गया। जिसके बाद शाम को नगर में स्थित पंजा बाड़ा में लंगर ए आम व शरबत का वितरण किया गया। इस दौरान मुस्लिम धर्मावलंबी सहित अन्य नागरिक मौजूद हुए।