कटंगी (नईदुनिया न्यूज)। वर्तमान में कटंगी से वारासिवनी के मध्य सड़क निर्माण का कार्य चालू है जिससे उस मार्ग से जाना अत्यंत कठिन है। कटंगी से तुमसर मार्ग पर बोनकट्टा के समीप बावनथड़ी पुल के क्षतिग्रस्त हो जाने के कारण बसों का आवागमन वहां से प्रतिबंधित है। कटंगी से तिरोड़ी क्षेत्र के लोगों के लिए वारासिवनी तुमसर और आगे जाने के लिए सीधा और सस्ता रेलमार्ग ही शेष रह जाता है, किंतु डेढ़ वर्ष से कोरोना संक्रमण के कारण रेलों का संचालन रोक दिया गया है। इस समस्या पर भाजपा के वरिष्ठ नेता सीताराम खंडेलवाल ने सांसद डॉ. ढालसिंह बिसेन से मांग की है कि लोगों को अब बहुत परेशानी हो रही है। जनता की मांग है कि इस रूट पर ट्रेनों का संचालन शीघ्र शुरू किया जाए। बालाघाट जिले की अधिकांश जनता का अधिकतर काम गोंदिया, तुमसर, नागपुर, जबलपुर, रायपुर, भोपाल, इंदौर शहरों से जुड़ा रहता है। बालाघाट व कटंगी से तिरोड़ी से इन शहरों को जोड़ने वाली ट्रेनों को प्राथमिकता दी जाए। वर्तमान परिस्थिति में छोटी दूरी की इन ट्रेनों को शीघ्र प्रारंभ किया जाना चाहिए। इसके लिए महाराष्ट्र शासन से भी एनओसी के प्रयास किए जाने चाहिए।

इन ट्रैक पर चलाई जाए ट्रेन : तिरोड़ी से गोंदिया व्हाया कटंगी से बालाघाट, बालाघाट से इतवारी नागपुर, व्हाया, कटंगी से तिरोड़ी, तिरोड़ी से रायपुर, व्हाया बालाघाट से गोंदिया इसके अतिरिक्त जबलपुर से गोंदिया, नागपुर, रायपुर के लिए सवारी गाड़ी व इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेनें चलाई जाएं। महाराष्ट्र एक्सप्रेस का विस्तार बालाघाट की ओर किया जाना चाहिए। जबलपुर से अमरावती ट्रेन का मार्ग परिवर्तित कर बालाघाट से कटंगी से तिरोड़ी से तुमसर होते हुए चलाई जाए। जबलपुर से इंदौर जाने वाली ट्रेन का विस्तार बालाघाट से गोंदिया तक कर दिया जाना चाहिए। बताया जा रहा है कि मंडला से इतवारी ट्रेन तिरोड़ी होते हुए चलाई जाना है, किंतु वर्तमान में महाराष्ट्र शासन की एनओसी के अभाव में केवल तिरोड़ी तक चलाई जाएगी।

सांसद डॉ. ढालसिंह बिसेन ने रेल मंत्री से भेंट कर जबलपुर से चांदा फोर्ट ट्रेन के प्रारंभ करने का अनुरोध किया है। रेल सलाहकार समिति के सदस्य मोहिल जैन ने अवगत कराया है कि उक्त ट्रेन शीघ्र प्रारंभ होने जा रही है। पता चला है कि आगे चलकर उसका विस्तार बल्लारशाह तक कर दिया जाएगा। रेल सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य शैलेंद्र शेठी ने महाप्रबंधक रेलवे बिलासपुर को पत्र लिखकर कुछ उपयोगी सुझाव प्रेषित किए हैं कि वर्तमान स्थिति में तिरोड़ी से सागर, व्हाया, बालाघाट से जबलपुर से दमोह, तिरोड़ी से रायपुर, व्हाया डोंगरगढ़ से राजनांदगांव से दुर्ग, तिरोड़ी से मंडला, बालाघाट से इंदौर, व्हाया, जबलपुर, इटारसी, भोपाल, उज्जैन, गोंदिया से बरौनी ट्रेन का बिलासपुर मार्ग परिवर्तित कर व्हाया, बालाघाट, जबलपुर, कटनी से संचालन किया जाना चाहिए।

इस ट्रेन पर भी विचार : रेल संघर्ष समिति तिरोड़ी के अध्यक्ष प्रभाकर नायडू ने बताया कि विश्वस्त सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि ऐसी चर्चा चल रही है कि गोंदिया से झाड़सुगुड़ा पैसेंजर ट्रेन का विस्तार तिरोड़ी तक किया जा सकता है। इसके अलावा तिरोड़ी से तुमसर और तुमसर से गोंदिया से बालाघाट से कटंगी से तिरोड़ी होते हुए एक सर्कल ट्रेन चलाए जाने के प्रस्ताव पर भी गंभीरता से विचार हो रहा है। रेल सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अगस्त माह में इस जिले को कुछ ट्रेनों की सौगात प्रदान किए जाने की पूरी संभावना है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local