बालाघाट,किरनापुर।नईदुनिया प्रतिनिधि। दक्षिण सामान्य वन परिक्षेत्र किरनापुर अंतर्गत बेलगांव बीट के कक्ष क्रमांक 228 के गाड़वी नाले पास एक नर तेंदुए उम्र तीन साल का गड़ा हुआ शव मिलने से सनसनी फैल गई। वन विभाग ने संदेह के आधार पर कुछ आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। इसमेें उन्होंने पूछताछ में जंगली सूअर के शिकार के लिए करंट बिछाने स्वीकार की लेकिन तेंदुए का शिकार हो गया। इससे तेंदुए के चारों पंजे व जबड़ा काटकर रख लिया और नाले किनारे गड़ा दिया गया। रविवार को वन विभाग ने मुखबिर की सूचना पर नाले किनारे से तेंदुए का शव खुदवाया। पोस्टमार्टम कराकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार वन परिक्षेत्र किरनापुर अंतर्गत बेलगांव बीट जंगल ग्राम किन्ही के कुछ लोगों द्वारा जंगली सूअर का शिकार करने के लिए विद्युत तार लगाकर उसमें करंट प्रवाहित कर दिया था।इसमें तेंदुए चपेट में आ गया था।

वन विभाग ने किन्ही के महाजन टोला निवासी गजेंद्र उईके, ग्राम बंजारी टोला निवासी ब्रजलाल सहित एक अन्य को तेंदुए का करंट लगाकर शिकार करने के आरोप में संदेह के रूप में गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि धारदार हथियार से चारों पंजे और जबड़ा काटने के बाद गाड़वी नाले समीप गाड़ दिया। वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा मुखबिर की सूचना पर आरोपितों को हिरासत में लिया गया। वन विभाग ने डाग स्क्वाड की मदद लेकर जांच शुरू कर ली है। मामले में संदेहियों से पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही यह भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि मामले में और कौन शामिल रहा है। इसके बाद उन पर भी कार्रवाई की जाएगी।

इनका कहना

बेलगांव बीट में तेंदुए का शव नाले किनारे गड़ा मिला है। डाग स्क्वाड की मदद से जांच की जा रही है। मामले में तीन संदेहियों से पूछताछ जारी है।

वंदना पाल, वन परिक्षेत्र अधिकारी किरनापुर।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close