बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर आज हम जिले की होनहार बालिका की असली कहानी बता रहे है, जो उम्र से तो छोटी है लेकिन योग के कठिन से कठिन आसन आसानी से करने में माहिर है। हम बात कर रहे है लालबर्रा जनपद के नेवरगांव की रहने वाली दिव्या परिमल की। दिव्या बताती है कि मेरी योग में रुचि पिता स्व. अजय परिमल की वजह से बढ़ी है। मैं अपने पिताजी को योग करते देखती थीं उसी वजह से रुझान योग में बढ़ा और पिताजी के मंशानुरूप योग को घर-घर पहुंचाने की मंशा के साथ आम लोगों को जागरूक कर रही हैं। दरअसल, दिव्या ग्रामीण परिवेश के बावजूद शैक्षणिक शिक्षा के साथ योग में भी अपनी प्रतिभा के माध्यम से माता पिता, परिवार, गांव व स्कूल का नाम रोशन कर रही है। दिव्या जिला स्तरीय योग प्रतियोगिता में फर्स्ट रैंक पा चुकी है। उन्होंने नौ साल की उम्र से योगा कर रही हैं,जो सुबह चार बजे से शुरू हो जाती है और रोज अभ्यास करती है।

गांव में लगा था योग शिविरः दिव्या परिमल ने बताया कि पिता स्व. अजय परिमल से मुझे योग करने की प्रेरणा मिली और झुकाव योग की ओर हो गया। गांव में योग शिविर लगा था,तब मैंने वहां योग शिविर अटेंड किया और इसके बाद से योग की तरफ आगे बढ़ती गई और आज मैं योगा में निपूर्ण हूं। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय योग प्रतियोगिता में मेरा फर्स्ट रैंक लगा था। डा. किशोर कटौते उनका भी बहुत बड़ा योगदान रहा है। पिताजी और डाक्टर किशोर कटौते के साथ हमने गांव-गांव जाकर योगा का प्रचार प्रसार किया और लोगों को योगा करने के लिए प्रेरित किया।उन्होंने योगा से अनेक लाभ बताए योग करने से मेरा शरीर एकदम स्वस्थ है। योग की चक्रासन और ताड़ासन से मेरी हाइट बहुत बढ़ी है। योग के लगभग आसन आते है।

मैं पिताजी का सपना जरूर पूरा करूंगीः दिव्या ने नईदुनिया को चर्चा में बताया कि कोरोना की दूसरी लहर में पिताजी की मृत्यु हो गई। पिताजी स्व. अजय परिमल का सपना था मुझे सिविल सर्विस में भेजने का और मैं उनका ये सपना जरूर पूरा करूंगी। आज मेरे पिताजी मेरे साथ नहीं है, लेकिन उनके बताए रास्तों में चलना मेरा ध्येय है। इस ध्येय को पूरा करने में मेरी मां सरिता परिमल मेरे साथ खड़ी है, जो हर पल मुझे साहस देती हैं कि तुमको योग के माध्यम से आगे बढ़ना है। वहीं, अपने पिताजी के सपनों को भी पूरा करना है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close