बालाघाट, नईदुनिया प्रतिनिधि। 2018 से लगी भर्ती पर रोक से जिले के शिक्षित युवक-युवतियां बेरोजगारी के बीच जीवन-यापन करने मजबूर हो रहे हैं, जिससे उनका आक्रोश भी बढ़ता जा रहा है। इसके चलते ही जिले के इन बेरोजगारों ने आज स्थानीय भाजपा कार्यालय के सामने पंडाल लगाकर बेरोजगार भर्ती सत्याग्रह किया है और सरकार के विरुद्ध नाराजगी जताकर प्रदर्शन किया।

वहीं सरकार से तत्काल भर्तियों पर लगी रोक को हटाने की मांग की है। इस दौरान प्रदर्शनकारी बेरोजगार युवक नितेश साहू, सारिका महोबिया समेत अन्य ने बताया कि सरकार कह रही है कि न्यायालय ने भर्ती पर रोक लगाई है, लेकिन न्यायालय का स्पष्ट कहना है कि भर्ती प्रक्रियाओं का सुचारु रुप से संचालन किया जाए बावजूद इसके सरकार अपनी मनमानी करते हुए भर्तियों पर लगी रोक को हटा नहीं पा रही है। जिसका ये नतीजा है कि एमपीपीएससी, व्यापम, पटवारी, इंस्पेक्टर, वनरक्षक, ग्रप 3,4 व शिक्षक भर्ती समेत अन्य नौकरियों की तैयारी कर रहे है युवा बेरोजगार बनते जा रहे है। उन्होंने बताया कि सबसे अधिक समस्या युवतियों को हो रही शासकीय नौकरी में भर्ती होकर एक अच्छी प्रशासक बनने वाली युवतियों की नौकरी न लगने के अभाव में शादियां हो जा रही है। जिससे उनका नौकरी का सपना भी अधूरा ही रह जा रहा है।

निकाली अर्थी रैली

प्रदर्शनकारी बेरोजगारों ने शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करते हुए धरना स्थल से अर्थी रैली निकाली जो नगर के आंबेडकर चौक समेत अन्य स्थानों से होते हुए हनुमान चौक पहुंची, जहां स्थापित राष्ट्रपिता की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रैली वापस धरना प्रदर्शन स्थल पर पहुंची है, जहां विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर एकदिवसीय सत्यागृह किया जा रहा है।।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close