बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नगरीय क्षेत्र के भटेरा रेलवे फाटक, बैहर चौकी रेलवे फाटक, गर्रा रेलवे फाटक व सरेखा रेलवे फाटक के लगने से रोजाना लगने वाले जाम से राहगीर और आम जनता न सिर्फ त्रस्त हो चुकी है बल्कि लगातार सड़क दुर्घटनाओं का भी शिकार हो रही है। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए ओवरब्रिज बनाने या फिर ट्रेनों के आवागमन को ही बंद किए जाने की मांग पूर्व जिला पंचायत सदस्य डाली दमाहे के नेतृत्व में स्थानीय लोगों ने की है।

जाम लगने पर करना पड़ता है परेशानियों का सामनाः पूर्व जिला पंचायत सदस्य ने बताया कि सरेखा, भटेरा चौकी, बैहर चौकी, गर्रा रेलवे फाटक बंद होने की स्थिति में स्कूल पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं, जिंदगी और मौत से लड़ने वाले मरीजों के साथ गर्भवती महिला के गर्भ में पल रहे मासूम नवजात, अर्थी, एंबुलेंस में मरीज को ट्रेन के गुजरने का इंतजार करना पड़ता है। ये इंतजार कई बार गंभीर परिणामों का कारण भी बन रहा है, जो कि चिंतनीय विषय भी बनता जा रहा है।

ओवरब्रिज न होने से उत्पन्ना हो रही समस्याः पदाधिकारियों ने बताया कि नगरीय क्षेत्र के किसी भी रेलवे फाटक में ओवरब्रिज का निर्माण नहीं हो सका है। जिसके चलते जाम लगने की समस्या बहुत ही गंभीर हो चुकी है। उन्होंने बताया कि बड़े वाहनों को शहरीक्षेत्र से बाहर से निकालने के लिए न तो रिंग रोड है और न ही बायपास जिसके चलते समस्त बड़े और ओवरलोड वाहन शहर के अंदर से ही गुजरते है। जिसके चलते ही ट्रेन के गुजरने के दौरान फाटक लगने की स्थिति में जाम घंटों लगा रहता है। ज्ञापन सौंपने के दौरान हितेश माहूले समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close