लामता (नईदुनिया न्यूज)। सद्गुरु कबीर आध्यात्मिक चेतना केंद्र पनिका समाज सामुदायिक भवन परसवाड़ा में सद्गुरु कबीर साहेब का प्रकट उत्सव मंगलवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर इशान पूजा कर पनिका समाज के अध्यक्ष विशाल महानंद द्वारा ध्वजारोहण झंडा गायन कर किया गया। इसके बाद सद्गुरु कबीर साहेब के प्रचारक के रूप में महंत देवी दास परवार द्वारा चौका आरती कर महाप्रसादी वितरण किया। इस दौरान उपस्थित लोगों ने कबीर जी के संदेशों को जाना और उन पर चलने का संकल्प लिया।

पनिका समाज के अध्यक्ष विशाल महानंद ने सद्गुरु कबीर साहेब के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि सद्गुरु कबीर साहेब जी समाज में फैले आडंबरों के सख्त विरोधी थे। उन्होंने लोगों के बीच से छूआछूत जात पात जैसे कुर्तियों को मिटाने का प्रयास किया। उन्होंने दोहों के माध्यम से समाज को एक संदेश दिया है। उनके दोहे इंसान को जीवन की नई प्रेरणा देते थे। उन्होंने लोगों को एकता के सूत्र का पाठ पढ़ाया। हमें सद्गुरु कबीर साहेब के वचनों को अपने जीवन में उतारना चाहिए और समाज का कल्याण करना चाहिए। कार्यक्रम में अन्य अतिथियों ने भी सद्गुरु कबीर साहेब की जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला।

भंडारे का आयोजनः कबीर प्रकट उत्सव कार्यक्रम में उपस्थित पनिका समाज के स्वजातीय बंधुओं द्वारा एक दूसरे से रूबरू होते हुए परिचय किया। साथ ही युवा, बुजुर्ग, महिला, पुरुषों ने अपने नाम गोत्र निवास स्थान बताकर अपना परिचय दिया। इस मौक पर भंडारे का आयोजन भी किया गया। जिसमें सैकड़ों लोगों ने भंडारे में महाप्रसादी ग्रहण किया। सद्गुरु कबीर प्रकट उत्सव कार्यक्रम को सफल बनाने में विशाल महानंद अध्यक्ष पनिका समाज परसवाड़ा, राजेश सोनवानी,विजय टांडिया,भोला पिटनिया,कमल दास कोरबा, इंदल दास परवार, यूडी धारवइया, रामकुमार आंधवान, दिनेश रामानंदी, महांत देवीदास पवार, महांत जीवन दास मानिकपुरी, देवान सोहन दास मानिकपुरी, दुर्गा पनरिया, विजय टांडिया, लोकेश पिटनिया, दिनेश रामानंदी सहित समाज के महिला-पुरुष उपस्थित रहे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close