विश्व पर्यटन दिवस आज

26बीजीटी-24-कोचेवाही। झरना में आनंद लेते हुए पर्यटक।

कोचेवाही (नईदुनिया न्यूज)। वन परिक्षेत्र वारासिवनी अंतर्गत रमरमा पंचायत की पहाड़ियों पर कल कल बहते झरनों के अद्भुत नजारे को निहारने सैकड़ों की संख्या में पर्यटकों की आवाजाही बनी हुई है। जिसके लिए हर हर महादेव ट्रस्ट समिति व रमरमा पंचायत की टीम पूरी तरह मुस्तैद रहती है। यदि इसे पर्यटन स्थल की अनुमति मिल जाती है तो आने वाले सैकड़ों पर्यटकों से आय मिलने के साथ ही लोगों को रोजागर मिल सकेगा। यहां पर जिला समेत समीपी राज्य महाराष्ट्र राज्य के पर्यटक भी झरने का आनंद लेने पहुंचते है।

पहाड़ी पर 300 फीट ऊपर सकरी गुफा में शिवलिंग के रूप में विराजे भगवान शंकर की प्राचीन प्रतिमा के बारे और मंदिर कितने वर्षों पुराना है यह तो कोई नहीं जानता है। मान्यता है कि भगवान शंकर यहां परिवार के साथ घुमते हुए जब इस पहाड़ी पर पहुंचे। तब यहां पहाड़ियों की सुंदरता को देखकर यही रम गए थे, इसलिए इस गांव का नाम रमरमा पड़ा। इसका उल्लेख शिव महापुराण में मिलता है। इस कुंड का पानी चमत्कारी है इस पानी के उपयोग से अनेक किस्म की बीमारियों का इलाज भगवान शिव की कृपा से होता है, इसलिए बड़ी संख्या में यहां आने वाले श्रद्घालु कुंड के पानी को अपने साथ लेकर जाते है। वहीं 900 फीट ऊपर पहाड़ी पर माता पार्वती विराजित है। बारिश में झरने का लुत्फ उठाने पर्यटकों की आवाजाही बनी रहती है।

इनका कहना

पर्यावरण के सौंदर्य के परिदृश्य को निहारने बारिश के दिन में पर्यटकों के आवाजाही को देखते हुए हर हर महादेव ट्रस्ट समिति व रमरमा पंचायत की ओर से चौपहिया व दोपहिया वाहनों के लिए पार्किग व्यवस्था व किसी भी कुंड में स्नान ना करने के लिए नोटिस बोर्ड लगवाए दिए है।

आशाराम कावरे, सरपंच प्रतिनिधि रमरमा पंचायत।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020