गुनेश्वर सहारे बालाघाट

योग बनाए निरोग, इसे सच साबित कर दिखाया है जिले की बिरसा तहसील के करौंदा बहेरा के शिक्षक जनकलाल चौधरी ने,जिसने बीमार और इलाज से तंग आकर योग को अंतिम विकल्प बनाकर इसे शुरू किया।कुछ ही दिन में आश्चर्यजनक परिणाम आने के बाद इसे निरंतर करना शुरू किया।योग की राह अपनाकर अब वह निरोगी जीवन जी रहे हैं।उनसे प्रेरित होकर अब गांव के लोग भी योग कर रहे हैं।शिक्षक की प्रेरणा से ग्रामीणों की भी दिनचर्या बदल गई है।योग से जीवन में बदलाव लाने शिक्षक के साथ ग्रामीण भी साक्षी बन रहे हैं।

शिक्षक जनकलाल चौधरी बताते हैं कि उन्होंने योग को अपने दिनचर्चा में नियमित कर बीमारियों से जंग जीतकर अपनी काया का निरोगी बनाने सफलता पाई।अब इसे पूरे मनोयोग के साथ गांव में करा रहे हैं।ग्रामीणों वे निश्शुल्क लोगों को योग करवा रहे हैं और चौदह वर्षों में साढ़े छह सौ लोगों को योग में दक्ष बनाया है।रोजाना सुबह डेढ़ घंटे बच्चों से लेकर युवा उनके घर योगा करने आते हैं।

शासकीय माध्यमिक शाला सुरवाही में पदस्थ शिक्षक जनकलाल चौधरी ने बताया कि 2008 के पूर्व वह खुद व उनके स्कूल में पदस्थ प्रधानपाठक पीएल इड़पांची और शिक्षक यूएल सिंधुपे कमर दर्द, पेट दर्द, पेट विकार, कमजोरी सहित अन्य बीमारी से परेशान रहते थे।जिला मुख्यालय से महानगरों तक इलाज कराते थे।फिर भी छुटकारा नहीं मिल रहा था।उन्होंने टीवी में एक योग अभ्यास का कार्यक्रम देखा।वहां पर नियमित योग करने से बीमारी से मुक्ति होना बताया गया।कार्यक्रम देखकर रोज योग करना शुरु किया।इसके अलावा प्रधानपाठक व साथी शिक्षक को भी बताकर योग करने कहा।योग करने से तीनों रोग मुक्त हो गए।

योग करने गांव के लोग आते है नियमितः शिक्षक ने मन में ठानी की गांव में अपने जैसे दूसरों को परेशानी न हो,इसके लिए घर के आंगन में रोज योग करते रहा।योग के फायदे लोगों को बताते रहा।इससे योग करने शुरुआत में दो से चार लोगों का आना शुरु हुआ।उन्हें फायदा समझ में आया तो अब चौदह वर्षों से बच्चों से लेकर युवा रोज 30 से 35 लोग नियमित रुप से घर आंगन में योग करने आते है।चाहे गर्मी,ठंड या फिर बारिश हो योग सुबह साढ़े पांच बजे से लेकर साढ़े सात बजे तक नियमित रुप से जारी रहता है।तीन सौ मकान वाले दस वार्डों के गांव में 1400 की आबादी है।

इनका कहना...

योग करने से शरीर में रक्त प्रवाह संतुलित तरीके से होता है।इससे शरीर के सभी अंग सही प्रकार से कार्य करते है।इससे अनेक तरह के रोग दूर हो जाते है।इसीलिए योग सुबह रोज करना चाहिए।योग करने से शरीर ऊर्जावान व तरोताजा रहता है।यह तनाव कम करने में सहायक होने के साथ फिट रहने में मददगार साबित होता है।

डा. मनोज पांडेय, सीएमएचओ बालाघाट।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close