बालाघाट, नईदुनिया प्रतिनिधि। जिले के मलाजखंड थाना अंतर्गत संतापुर भीमा गांव के लघु तालाब में डूबने से तीन बच्चों की मौत हो गई। पुलिस ने सूचना मिलने पर तीनों के शव बरामद कर लिए है। मंगलवार को तीनों बच्चे स्कूल से आने के बाद खेलने निकलने थे,जो खेलते-खेलते गांव से गायब हो गए थे। तीनों के देर शाम तक घर नहीं पहुंचने पर स्वजन और आसपास के लोगों द्वारा तलाश करते हुए गांव से एक किलोमीटर दूर तालाब की पार पर पहुंचे।जहां पर एक बच्चे के चप्पल दिखाई दिए। तभी अंदर पानी में देखने पर तीनों के शव देखे गए।पुलिस ने बुधवार को तनुष्का पिता मनोज उइके 8 वर्ष, प्रतिभा पिता नरेश धुर्वे 6 व वेदांत पिता चंद्रपाल उइके 5 वर्ष के शव बरामद कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिरसा में पोस्टमार्टम कराकर स्वजनों को सौंप मर्ग कायम किया है।

एक ही मोहल्ले थे तीनों बच्चे

जानकारी के अनुसार तीनों बच्चे एक ही मोहल्ले के थे।मंगलवार को स्कूल से आने के बाद खेलने निकले थे, जिसमें तनुष्का उइके कक्षा चौथी, प्रतिभा धुर्वे दूसरी और वेदांत उइके आंगनबाड़ी में अध्ययनरत था। बताया गया है कि मनोज उइके तीन बच्चे है जिसमें तनुष्का सबसे बड़ी लड़की थी।वहीं नरेश धुर्वे के दो बच्चे थे, जिसमें छोटी लड़की प्रतिभा थी और चंद्रपाल उइके के दो लड़के थे, जिसमें बड़ा लड़का वेदांत था। तीनों बच्चों की मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। एक ही मोहल्ले में तीनों की अर्थी आगे पीछे निकलने से पूरे गांव में शोक का माहौल व्याप्त है।

पुलिस ने की पंचनामा कार्रवाई

ग्राम संतापुर भीमा में गांव से एक किलोमीटर दूर लघु तालाब में डूबने से तीन बच्चों की मौत हो गई। तीनों के शव बरामद कर पंचनामा कार्रवाई पूरी की। शव के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिरसा में पोस्टमार्टम कराकर स्वजन को सौंप मर्ग कायम किया गया है।-डोमन सिंह मरावी, थाना प्रभारी, पुलिस थाना मलाजखंड

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close