श्रवण शर्मा, बालाघाट। मध्य प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए जतन किए जा रहे हैं। दूसरी तरफ देसी-विदेशी सैलानियों को पर्यटन स्थल तक लाने और उन्हें सुविधा के साथ साधन मुहैया कराने भी नए-नए प्रयोग किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में कान्हा-बांधवगढ़ दोनों नेशनल पार्क को जोड़ने एयर कनेक्टिविटी को बढ़ाया जा रहा है। कान्हा-बांधवगढ़ आने वाले पर्यटक यहां न केवल जंगल सफारी करेंगे, बल्कि एयर सफारी का भी लुत्फ उठा सकेंगे। उत्तराखंड की राजस एयरोस्पोर्ट्स एंड एडवेंचर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने इसके लिए कदम बढ़ाए हैं। कंपनी ने उमरिया हवाई पट्टी व बालाघाट जिले बिरवा हवाई पट्टी को हवाई रास्ते से सीधे जोड़ने की योजना बनाई है। इसके लिए कंपनी ने दोनों हवाई पट्टी को 30-30 साल के लिए लीज पर लिया है। अब तक बिरवा हवाई पट्टी पर कभी-कभार एयरक्राफ्ट उतरा करते थे, लेकिन अब यहां हवाई एडवेंचर स्पोर्ट्स, कान्हा पार्क आने वाले पर्यटकों के लिए खास आकर्षण और मनोरंजन का केन्द्र बनेंगे।

जायरोकॉप्टर से सीधे होगी एयर सफारी

कान्हा और बांधवगढ़ आने वाले पर्यटक इन पार्कों के घने जंगलों के बीच ही नहीं हवाई सैर कर जायरोकॉप्टर से एयर सफारी भी करेंगे। इससे न केवल जिले में पर्यटन बढ़ेगा, बल्कि एडवेंचर स्पोर्ट्स को भी बढ़ावा मिलेगा। वहीं हॉट एयर बैलून गांगुलपारा जलाशय से डाउन फॉल तक उतरेगा।

फोकस पॉइंट

- कंपनी ने उमरिया व बिरवा हवाई पट्टी को लीज पर लिया है।

-जायरोकॉप्टर से सीधे शुरू होगी एयर सफारी।

-बिरवा हवाई पट्टी पर एडवेंचर स्पोर्ट्स का भी बढ़ेगा रोमांच।

- हॉट एयर बैलून, जायरोकॉप्टर, पैरामोटरिंग, स्काई ड्राइविंग एडवेंचर एक्टिविटी से बढ़ेगा रोमांच।

- पर्यटक 1 घंटे में तय कर सकेंगे उमरिया-बिरवा का सफर।

540 फीट के रनवे से उड़ेगा जायरोकॉप्टर, उतरने के लिए चाहिए 100 फीट का रनवे

राजस कंपनी सुपरविजन इंचार्ज सुमित चव्हाण ने बताया कि जायरोकॉप्टर एक एयर कार है। इसमें 230 हॉर्स पावर के फोर सिलेंडर इंजन लगे हुए हैं। यह एक हवा में उड़ने वाली कार है, जो 10 मिनट में थ्री व्हीलर कार बन जाती है। जायरोकॉप्टर में ईंधन की जगह गैसोलीन का इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही कार्बन फाइबर, टाइटेनियम और एल्यूमीनियम से बनी इस कार का वजन 680 किलो है। इसे उड़ान भरने के लिए 540 फीट का रनवे और उतरने के लिए 100 फीट का रनवे चाहिए। इस कार में मोटर साइकिल की तरह हैंडलबार भी होता है। इसे सड़क और उड़ान दोनों जगह पर कंट्रोल किया जा सकता है।

राजस एयरोस्पोर्ट्स कंपनी ने उमरिया और बिरवा हवाई पट्टी को लीज पर लिया है। इससे बांधवगढ़ व कान्हा के बीच एयर सफारी शुरू हो सकेगी। इससे पर्यटक पार्क के साथ हवाई सैर कर सकेंगे और एडवेंचर का लुत्फ उठा सकेंगे। जल्द ही बिरवा हवाई पट्टी से उमरिया तक सीधे एयर सफारी शुरू होगी। जायरोकॉप्टर से कान्हा आने वाले पर्यटक यहां एडवेंचर का लुत्फ भी उठा सकेंगे। इसके लिए बिरवा हवाई पट्टी के सरफेस की मरम्मत की जानी है। साथ ही बाउंड्रीवॉल बनाकर सुरक्षा घेरा मजबूत किया जाना है। -दीपक आर्य, कलेक्टर बालाघाट।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना