2022 तक कच्चे मकान विहीन नगर का लक्ष्य, रखी नींव

- नपाध्यक्ष ने आवास योजना के तहत 499 आवासों का कि या भूमिपूजन, एक आवास का लोकार्पण

सेंधवा। नईदुनिया न्यूज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है कि देश में एक भी परिवार ऐसा नहीं होना चाहिए, जिसके सिर पर पक्की छत ना हो। आवास योजना 2022 तक चलेगी। इसलिए नगर पालिका प्रधानमंत्री के सपने के तहत लक्ष्य लेकर चल रही है कि सभी पात्र हितग्राही को योजना का लाभ मिले। ताकि शहर 2022 तक कच्चे मकान विहीन हो जाए। सोमवार को उक्त बात नगरपालिका अध्यक्ष बसंती बाई यादव ने प्रधानमंत्री आवास योजना के पांचवें चरण में स्वीकृत हुए 499 आवास योजना का भूमि पूजन करने के दौरान कही।

सोमवार दोपहर में शहर के वार्ड क्रमांक छह तलावड़ी क्षेत्र में नपाध्यक्ष ने 499 आवास योजना का भूमिपूजन कर एक आवास का फीता काट कर लोकार्पण भी कि या। इस दौरान नपाध्यक्ष यादव ने कहा कि नगर का कोई भी मकान कच्चा नहीं रहना चाहिए। योजना के तहत नगर पालिका ने पूरी ईमानदारी के साथ काम कि या है। कु छ लोगों द्वारा कि स्त नहीं आने की शिकायत पर अध्यक्ष ने कहा कि हमारी ओर से पूरी कोशिश की जा रही है कि जल्द उन्हें कि स्त मिल सके । इस दौरान पूर्व नपाध्यक्ष अरुण चौधरी, नपा उपाध्यक्ष छोटू चौधरी, सीएमओ मधु चौधरी आदि मौजूद थे।

काम चालू नहीं करने पर कार्रवाई

अध्यक्ष ने कहा कि कु छ लोगों ने पैसे आने के बाद भी मकान का काम चालू नहीं कि या, इससे परेशानी आ रही है। उन्हें नोटिस देकर काम चालू करने को कहा गया है। काम चालू नहीं करने पर राशि वापसी की कार्रवाई की जाएगी। नगर पालिका द्वारा 2155 हितग्राहियों को आवास योजना के तहत प्रकरण बनाकर कि स्तें जारी की गई हैं। वहीं 930 हितग्राहियों को योजना के अंतर्गत दो लाख पचास हजार की पूरी कि स्त देकर कार्य पूर्ण हो चुका है। पांचवें चरण में 499 हितग्राहियों को प्रथम कि स्त डाली गई है। भूमिपूजन कार्यक्रम में इस अवसर पर वार्ड पार्षद लता चौधरी, गोविंद पांडे, प्रकाश निकु म, नीलेश पालीवाल आदि मौजूद थे।

09बीएआर-51 सेंधवा की तलावड़ी कॉलोनी में आवास का लोकार्पण करती हुई नपाध्यक्ष बसंती बाई यादव, समीप है पूर्व नपाध्यक्ष अरुण चौधरी व पार्षद लता चौधरी।

09बीएआर-52 आवास योजना के तहत नपाध्यक्ष बसंतीबाई यादव ने 499 आवासों का भूमिपूजन कि या। इस दौरान मौजूद पूर्व नपाध्यक्ष अरुण चौधरी, सीएमओ मधु चौधरी, पार्षद लता चौधरी।

000000000000

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket