नाव से नर्मदा पार कर धार जिले में कि या प्रवेश

- सड़क व पगडंडी मार्ग से होकर गुजरे नर्मदा पंचकोसी पदयात्री

बड़वानी। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर से रविवार को निकली पंचकोसी पदयात्रा का सोमवार को धार जिले में प्रवेश हुआ। सोमवार सुबह पालिया बसाहट से पदयात्री स्नान-पूजन कर नर्मदे हर के जयघोष के साथ आगे बढ़े। सौंदुल पुनर्वास मार्ग से भामटा होते हुए बड़वानी जिले के अंतिम छोर ग्राम जांगरवा में प्रवेश कि या। यहां से नाव और एनडीईआरएफ की बोट द्वारा पदयात्रियों ने नर्मदा पार कर धार जिले के मेघनाथ तीर्थ पर शीश नवाए।

मेघनार्थ तीर्थ पर आश्रम मंदिर दर्शन कर पिपरीपुरा दुर्गा मंदिर दर्शन कर चंदनखेड़ी होते हुए पंचकोसी यात्री नवादपुरा कोणदा पहुंचे। दोपहर में स्वल्पाहार के बाद चंदनखेड़ी, हेलादड़ होते हुए भंवरिया में रात्रि विश्राम के लिए ठहरे। नर्मदांचल पंचकोसी पदयात्रा समिति के शंकरलाल यादव व शंकरसिंह कौचे ने बताया कि पांच दिवसीय राजघाट-कोटेश्वर नर्मदा पंचकोसी पदयात्रा तीसरे दिन मंगलवार को धार जिले के धुलसर मार्ग से कटनेरा होते हुए प्राचीन सिद्धक्षेत्र व अम्बे मां के दर्शन कर गेबीनाथ मठ आश्रम पहुंचेंगे। जहां स्वामी महंत 108 रामदास त्यागीजी द्वारा स्वल्पाहार कराया जाएगा। यहां से निसरपुर बसाहट मार्ग से कड़माल सांई मंदिर में रात्रि विश्राम होगा।

09बीएआर-59 बड़वानी जिले के ग्राम जांगरवा से नाव से परिक्रमावासियों ने कि या धार जिले में प्रवेश।

0000

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket