सेंधवा (नईदुनिया न्यूज)। जिले के ठीकरी से बड़ी बिजासन तक के मुंबई-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर आए दिन दुर्घटनाओं में लोगों की मौत और घायल होने के मामले सामने आ रहे हैं। कुछ स्थानों पर बने गति अवरोधक (स्पीड ब्रेकर) भी हादसों का कारण बन रहे हैं। सड़क हादसों पर रोक के लिए हो रही सरकारी और गैर सरकारी कोशिशें कारगर साबित नहीं हो रही हैं। सड़क दुर्घटनाओं पर जिम्मेदार चिंतित तो दिखाई देते हैं, लेकिन यातायात नियमों के पालन की दिशा में ठोस कदम नहीं उठाए जा सके हैं।

शहर से 10 किमी दूर ग्राम जामनिया में डेढ़ साल पूर्व बनाए गए गति अवरोधक के कारण डेढ़ साल में 10 से अधिक हादसे चुके हैं। उतार पर गति अवरोधक होने से मल्टीएक्सल व्हीकल (ट्रेलर) अपनी गति पर कई बार काबू नहीं रख पाते हैं और पलट जाते हैं। कई बार अचानक गाड़ियां रुकने पर पीछे से आने वाले वाहन की भिड़ंत हो जाती है। हालांकि यहां साइन बोर्ड लगा है, लेकिन ढाल तीव्र होने से बड़े और लोडेड वाहन दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं। पिछली 21 अक्टूबर को ही स्पीड ब्रेकर के कारण एक ट्रक पलट गया था।

पांच से ज्यादा मौत, 25 से अधिक घायल

ग्राम जामनिया निवासी जीतू जैन ने बताया कि यहां गति अवरोधक बनने के बाद से हर महीने हादसे हो रहे हैं, जिसमें पांच से अधिक ने जान गवा दी है। वहीं 25 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। इसी प्रकार शहर के निकट से गुजर रहे मुंबई-आगरा फोरलेन मार्ग और बायपास सर्कलों पर अधिक दुर्घटनाएं देखने को मिल रही हैं। पहुंच मार्ग से फोरलेन पर जाने के दौरान छोटी बिजासन सर्कल पर कई हादसे हो चुके हैं। यही कारण है कि यहां दुर्घटना के बाद हर बार फ्लाइ ओवर की मांग की जाती है। इसी प्रकार बड़ी बिजासन घाट में बने गति अवरोधक पर भी आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं।

ठीकरी से बड़ी बिजासन तक के फोरलेन मार्ग पर दुर्घटनाओं के क्या कारण है, इस मुद्दे को जल्द होने वाली सड़क सुरक्षा सप्ताह की बैठक में रखकर समस्या दूर करने के प्रयास करेंगे।

- रितु अग्रवाल, जिला परिवहन अधिकारी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस