बड़वानी-अंजड़(नईदुनिया प्रतिनिधि)।

जिले के अंजड़ थाना क्षेत्र के ग्राम मंडवाड़ा में शुक्रवार सुबह से प्रशासनिक अमला मय साजो-सामान के पहुंचा। ग्राम में शासकीय भूमि पर किए गए अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। इसमें सबसे पहले किसानों की 40 लाख से अधिक की उपज लेकर फरार हुए व्यापारी पुत्र व उसके स्वजन के गोदामों को तोड़ने की कार्रवाई की गई। आरोपित व्यापारी पुत्र ने 37.5 लाख की शासकीय भूमि पर भी कब्जा किया हुआ था। इस अवैध निर्माण को धराशायी किया गया। इस दौरान राजस्व, पुलिस व पंचायत का अमला मौजूद रहा। वहीं कार्रवाई के चलते ग्राम में हड़कंप की स्थिति रही।

ज्ञात हो कि गत सात जनवरी व 21 जनवरी के अंक में सिर्फ नईदुनिया ने उक्त मामले को प्रमुखता से उठाया है। गत छह जनवरी को मंडवाड़ा क्षेत्र के करीब 55 किसानों ने पुलिस, मंडी सचिव व एसडीएम को शिकायत की थी कि मंडवाड़ा के कपास व्यापारी विरेंद्र चोपड़ा के पुत्र प्रिंस चोपड़ा ने किसानों से 40 लाख की उपज खरीदी और फरार हो गया है। उस समय व्यापारी विरेंद्र ने 15 दिन में किसानों की राशि भूगतान का आश्वासन दिया था। गुरुवार तक राशि ना मिलने से किसानों ने अंजड़ थाने में करीब दो घंटे धरना दिया। इस पर व्यापारी विरेंद्र चोपड़ा व उसके पुत्र प्रिंस चोपड़ा के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया। वहीं इसके अगले ही दिन शुक्रवार को संयुक्त टीम मंडवाड़ा अतिक्रमण पर कार्रवाई करने पहुंच गई है।

गोदाम सहित ढाबा ढहाया

कार्रवाई में दो जेसीबी के माध्यम से शासकीय जमीन पर अतिक्रमण कर बने गोदाम, ढाबा व मवेशी बाड़ा आदि तोड़ना शुरू किया गया। इसमें प्रिंस चोपड़ा द्वारा ग्राम के हरणगांव मार्ग पर 6725 वर्गमीटर शासकीय जमीन पर कब्जा कर दुकान निर्माण को भी जेसीबी की मदद से ढहाया गया। वहीं प्रिंस के स्वजन गजेंद्र चोपड़ा का गोदाम भी तोड़ा गया। इस दौरान करीब दो हेक्टेयर शासकीय जमीन हो अतिक्रमण मुक्त किया गया। अतिक्रमण मुक्त कराई गई जमीन की कुल कीमत करीब 65 लाख रुपये बताई गई।

व्यापारी गिरफ्तार, उपज की जब्त

अंजड़ पुलिस ने उक्त मामले में मंडवाड़ा के व्यापारी विरेंद्र चोपड़ा को गिरफ्तार किया है। वहीं शुक्रवार को प्रिंस चोपड़ा की दुकान तोड़ने के दौरान अंदर रखी मक्का, सोयाबीन आदि की उपज को जब्त कर थाने लाया गया। आरोपित प्रिंस चोपड़ा की खोजबीन जारी है। ग्राम मंडवाड़ा में कार्रवाई के दौरान राजपुर एसडीएम वीरसिंह चौहान, अंजड़ तहसीलदार भागीरथ वाखला, अंजड़ थाना प्रभारी सोनु सितोले, नायब तहसीलदार दर्शिता मोयदे सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी उपस्थित रहे।

शासकीय भूमि पर से अतिक्रमण हटाया

अंजड़ तहसीलदार भागीरथ वाखला ने बताया कि कार्रवाई में करीब दो हैक्टेयर शासकीय भूमि अतिक्रमण मुक्त की गई है। इसे असिंचित कृषि भूमि मानें तो इसकी कीमत करीब 65 लाख रुपये होती है। हांलाकि कुछ हिस्से का व्यावसायीक उपयोग भी हो रहा था। व्यावसायीक दर से यह जमीन दो करोड़ से अधिक की है। राजपुर एसडीएम वीरसिंह चौहान ने बताया कि मंडवाड़ा ग्राम में शासकीय भूमि पर किया गया अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई है। इसमें प्रिंस चोपड़ा सहित अन्य के निर्माण शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local