बड़वानी। जिले के करीब आठ ग्रामों में पिछली नौ अगस्त से हो रही भू-गर्भीय हलचल ने ग्रामीणों की नींद उड़ा दी है। रविवार को ग्राम भमोरी में भूकंपन की दहशत में ग्रामीणों ने रात को खाना घर के बाहर बनाया और खाया भी। वहीं यह भी कहा कि बारिश नहीं हुई तो पूरी रात घर के बाहर ही गुजारेंगे। उधर प्रशासन फिलहाल मामले की जांच में लगा है।

जानकारी अनुसार राजपुर अनुभाग के ग्राम भमोरी, साकड़, बिल्वारोड़, राजीवगांधी नगर, टांडा, उमरिया, हरिबड़, सुराणा, गुगलगांव, सिनगुन आदि में ग्रामीणों को गत नौ अगस्त से जमीन के अंदर धमाकों की आवाज आ रही है। शनिवार को राजपुर एसडीएम वीरसिंह चौहान ने तीन गांवों का दौरा कर ग्रामीणों से जानकारी ली थी।

वहीं रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपने की बात कही थी। रविवार को ग्राम भमोरी निवासी राजाराम पिता चिड़ीया ने बताया कि अब तक अनुभव है कि जब दिन में झटके या जमीनी धमाके नहीं सुनाई देते, उस दिन रात को सुनाई देते हैं। ग्रामीण गेंदालाल पिता मांगीलाल ने बताया कि रविवार को दिन में धमाकों की आवाज नहीं सुनाई दी है। इसलिए आशंका है कि रात को ज्यादा धमाके होंगे। इसके चलते रात का खाना भी घर के बाहर बनाया व खाया है। यदि बारिश नहीं हुई तो रात को ग्रामीण घर के बाहर ही सोएंगे।