*एक दिन पूर्व महिला वार्ड में छत के प्लास्टर का टुकड़ा गिरा था, बाल-बाल बचे मरीज

बड़वानी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। वर्षा के पहले ही जिला अस्पताल के वार्डों में दीवारों पर सीलन और छत के प्लास्टर उखड़ने की समस्या आने लगी है। शनिवार को यहां के महिला वार्ड में छत के प्लास्टर का एक टुकड़ा गिर गया था। गनीमत रही कि यहां उपचाररत महिला मरीज बाल-बाल बच गई। प्लास्टर का टुकड़ा गिरने के बाद यहां मरीजों में अफरा-तफरी मच गई।

इस घटना के बाद एक बार फिर जिला अस्पताल की व्यवस्था को लेकर सवाल उठने लगे हैं। लोगों ने अस्पताल प्रबंधन से इस समस्या को लेकर सुधार की मांग की है। यहां भर्ती मरीजों व स्वजन के अनुसार महिला वार्ड और उसके समीप के वार्डों में दीवारों व छत पर सीलन के साथ ही प्लास्टर की पपड़ी उखड़ने लगी है। जगह-जगह प्लास्टर की उखड़ी पतली परत दिखाई दे रही है। प्लास्टर के टुकड़े से बाल-बाल बची मरीज पूजा मेहता ने बताया कि छत और दीवारों की मरम्मत होनी चाहिए।

वर्षा में होता है रिसाव

अस्पताल सूत्रों के अनुसार वर्षा के दिनों में कुछ वार्डों में दीवारों पर सीलन के साथ ही छत से रिसाव की समस्या भी आती है। इससे मरीजों व उनके स्वजन के साथ ही अस्पताल स्टाफ को भी परेशानी होती है।

वरिष्ठों को कराया अवगत

अस्पताल स्टाफ के अनुसार प्लास्टर की परत उखड़ने और दीवारों में सीलन की समस्या से वरिष्ठों को अवगत कराया है। वर्षा पूर्व इसकी मरम्मत करने की मांग की गई है।

---

कराएंगे दुरुस्त

जिला अस्पताल के महिला वार्ड व समीप के वार्डों में छत व दीवारों की सीलन की समस्या के हल के लिए इंजीनियर को अवगत कराया है। जल्द ही इसे दुरुस्त कराएंगे।

-डा अरविंद सत्य, सिविल सर्जन

जिला अस्पताल, बड़वानी

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close