बड़वानी (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

बड़वानी जिला गठन के 25 वर्ष होने पर रजत जयंती वर्ष के रूप में बड़वानी गौरव महोत्सव का आगाज क्षेत्र की जीवनदायिनी मां नर्मदा की आरती के साथ राजघाट से प्रारंभ हुआ। मां नर्मदा की आरती के मुख्य यजमान बने मध्यप्रदेश शासन के कैबिनेट प्रेमसिंह पटेल, राज्यसभा सदस्य डा. सुमेरसिंह सोलंकी, लोकसभा सांसद गजेंद्रसिंह पटेल, कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा, पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला, भाजपा जिला अध्यक्ष ओम सोनी व अन्य जनप्रतिनिधि, बड़ी संख्या में जिले से आए जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

गौरव महोत्सव की कलश यात्रा के साथ निकली लोक कला संस्कृतियों की चल समारोह झांकी का डेढ़ किलोमीटर का सफर ढाई घंटे में तय हुआ। कलश यात्रा जैसे ही कार्यक्रम स्थल शहीद भीमा नायक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय परिसर बड़वानी पहुंची। सभी ने पुष्प वर्षा कर करतल ध्वनि से यात्रा का अभिनंदन किया। यहां कार्यक्रम का शुभारंभ कैबिनेट मंत्री प्रेमसिंह पटेल, राज्यसभा सदस्य डा. सुमेरसिंह सोलंकी, लोकसभा सांसद गजेंद्रसिंह पटेल, कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा द्वारा परंपरा अनुसार कन्या पूजन के साथ किया गया। इस दौरान अतिथियों ने मां सरस्वती के पूजन के साथ-साथ बड़वानी जिले के जननायक शहीद भीमा नायक, शहीद ख्वाजा नायक, टंट्या मामा को पुष्प अर्पित कर सात बड़वानी गौरव महोत्सव का आगाज किया। कार्यक्रम की मंचीय प्रथम प्रस्तुति के रूप में निमाड़ संस्कृति एवं निमाड़ी बोली पर आधारित निमाड़ी भजन से बालकृष्ण धनगर टीटगारिया ग्रुप द्वारा मां नर्मदा के भजन की प्रस्तुति दी। अतिथियों ने 25वीं वर्षगांठ पर 25 पौंड का केक काटकर सभी का मुंह मीठा कराया। वहीं जिले की ऐतिहासिक पहचान अध्यात्म संस्कृति एवं पर्यटन स्थलों पर आधारित पुस्तक बड़वानी दर्शन टूरिस्ट गाइड का विमोचन भी मंचासीन अतिथियो द्वारा किया गया। राज्यसभा सांसद डा. सोलंकी ने कार्यक्रम में बारेला संस्कृति का उद्यम बड़वानी जिले को बताया तथा शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, आवागमन, पर्यटन के क्षेत्र में सरकार के द्वारा किए जा रहे आधारभूत प्रयासों की जानकारी दी। वहीं लोकसभा सांसद पटेल ने कहा कि बड़वानी जिले को विकास की ओर अग्रसर करने में भारत सरकार एवं मध्य प्रदेश शासन के साथ मिलकर प्रयास कर रहे हैं। वहीं मंत्री पटेल ने कहा कि भारतीय संस्कृति के समागम से यह गौरव महोत्सव सतरंगी हो गया है।

कलाकारों ने दी आकर्षक प्रस्तुतियां

मंच पर भारतीय संस्कृति एवं कला के विभिन्ना रंगों को एक साथ देखने का अवसर मिला। वहीं पंजाब के मशहूर गायक जेडी मेहंदी, लाफ्टर चैलेंज के चैम्पियन राजस्थानी सुरेश अलबेला के हंसी के हंगामे भी देर रात तक लोगों को गुदगुदाते रहे। बड़वानी पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला के निर्देशन में पुलिस विभाग द्वारा भी स्वयं के बैंड पर देशभक्ति गीतों की सुमधुर प्रस्तुतियां दी गई। राहुल निमाडे की टीम द्वारा निमाड़ का लोकप्रिय पर्व गणगौर के लोक गीत एवं नृत्य की प्रस्तुति दी। वहीं मनोवलकर ग्रुप व भोपाल से आई नृत्य कला मंडली के द्वारा देशभक्ति गीतों ने जिलेवासियों को ओतप्रोत कर दिया।

मां अहिल्या माता की मूर्ति का किया अनावरण

अतिथियों ने गौरव कलश यात्रा के दौरान रंजीत क्लब के सामने तिराहे पर स्थापित मां अहिल्या माता की मूर्ति का भी अनावरण किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close