बड़वानी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पवित्र श्रावण माह में जिलेभर में विविध धार्मिक व सामाजिक आयोजन हो रहे हैं। कहीं पार्थिव शिवलिंगों का पूजन हो रहा है तो कहीं पर कांवड़ यात्रा, कीर्तन और अन्य आयोजन हो रहे हैं। कुछ स्थानों पर शिव परिवार की प्राण प्रतिष्ठा के आयोजन भी हो रहे हैं।

सेंधवा की अग्रवाल महिला मंडल द्वारा श्रावण माह में नगर से चार किलोमीटर दूर ग्राम सिलदड़ में लहरिया उत्सव मनाया गया । उत्सव के दौरान सभी ने निर्णय लिया कि गणेश उत्सव पर सभी लोग मिट्टी के गणेशजी बनाकर उनकी स्थापना करेंगी।अग्रवाल महिला मंडल की अध्यक्ष संतोष चौमुवाला व सचिव कविता तायल ने बताया कि महिला मंडल द्वारा लहरिया उत्सव के दौरान 125 महिलाओं ने भागेदारी की। इस दौरान विविध खेल स्पर्धाएं भी आयोजित की गई।

केले के पत्ते पर भोजन कराकर डिस्पोजल का उपयोग करना बंद करने की प्रेरणा दी गई। इस दौरान गणेश चतुर्थी पर मिट्टी के गणेश की स्थापना करना तथा स्वयं गणेशजी बनाने के लिए एक दिन की कार्यशाला भी आयोजित की जाएगी। जिसमें गणेश प्रतिमा कैसे बनाई जाती हैं का प्रशिक्षण दिया जाएगा ।सबके घर से गणेश प्रतिमा एकत्रित कर सामूहिक विसर्जन भी किया जाएगा, वहीं राखी सजाओ प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी।उसकी फोटो मंडल को सेल्फी के साथ भेजना है सबसे अच्छी राखी को पुरस्कार दिया जाएगा ।

कलश यात्रा निकाली, होगी प्राण-प्रतिष्ठा

ठीकरी में भगवान हिरण्यगर्भेस्वर महादेव मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव मनाया जा रहा है। इसके तहत शनिवार को आकर्षक कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा का शहर में जगह-जगह स्वागत हुआ। भगवान हिरण्यगर्भेस्वर मंदिर पहुंचकर कलश यात्रा का समापन हुआ।मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के दौरान वरुण पूजन, क्षेत्रपाल पूजन, मंडल प्रवेश, गनपत्यादी देवों का पूजन विधि विधान के साथ देवों का पूजन किया गया।गौरतलब है कि प्राचीन भगवान हिरण्यगर्भेस्वर महादेव मंदिर का जीर्णोद्धार किया गया है।यह मंदिर वर्षों पुराना होने के कारण मंदिर को पूरी तरह से लाल पत्थरों से नवीन निर्माण किया गया।सभी नागरिकों के सहयोग से करीब आठ माह में मंदिर का निर्माण पूर्ण हुआ। जिसके बाद 6 अगस्त से मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन प्रारंभ हुआ। धामनोद से आए पंडितों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ प्राण प्रतिष्ठा की जा रही है। आयोजन शनिवार से बुधवार तक जारी रहेगा।वहीं 10 अगस्त को शिवडोले का आयोजन किया जाएगा। जो ठीकरी तहसील से प्रारंभ होकर नगर के मुख्य मार्गों से गुजरेगा। जिसके बाद गांधी चौक में शिवडोले का महाआरती के बाद समापन होगा।वहीं 14 अगस्त को भंडारे का आयोजन होगा।

जुलवानिया से राजपुर पैदल यात्रियों का स्वागत

राजपुर में शनिवार को जुलवानिया से आए पैदल यात्रियों का भव्य स्वागत किया गया। राजपुर से जुलवानिया लगभग 12 किलोमीटर की पैदल यात्रा पद यात्रियों द्वारा की गई। पदयात्री नगर के ही शिव मंदिर में जलाभिषेक करने पहुंचे थे। जिलाध्यक्ष रवि महाजन ने बताया कि यात्रा के नगर आगमन पर दशोरा समाजजन द्वारा सभी यात्रियों का स्वागत एवं अभिनंदन किया। साथ ही पदयात्रियों सहित अन्य श्रद्धालुओं ने आयोजित भंडारे के दौरान भोजन प्रसादी ग्रहण कर पुण्य लाभ लिया। क्षेत्र की कुशल क्षेम और उन्नाति के लिए यात्रा का आयोजन किया गया था। यात्रा में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close