सेंधवा (बड़वानी, मप्र)। Stop Polythene मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) के सेंधवा(Sendhwa) में पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने का संदेश देकर लोगों को जागरूक करने के लिए रविवार को युवाओं ने अनूठा तरीका अपनाया। यहां की निवाली रोड स्थित नंद कॉलोनी की गली नंबर एक से चार में 70 से अधिक युवाओं ने घर-घर जाकर शोकपत्र बांटे (Polythene Condolence letters)। इस पर दो अक्टूबर को पॉलीथिन का निधन (Polythene death उपयोग बंद) होने की जानकारी देते हुए लोगों से अपील की गई कि वे अब पॉलीथन का उपयोग नहीं करें। रविवार सुबह 'स्वच्छता की शुरुआत मुझसे' ग्रुप के युवाओं ने लोगों को यह शोक पत्र दिया। अभियान से जुड़े युवा आनंद मिश्रा ने बताया कि उन्होंने टीम और नगर पालिका के स्वच्छता टीम से जुड़े सदस्यों के साथ घर-घर जाकर लोगों को शोकपत्र बांट कर गलियों में सफाई की।

पहले तो शोकपत्र देने पर लोग चौंके, बाद में संदेश पढ़ने पर लोगों ने संकल्प लिया कि वे पॉलीथिन का उपयोग नहीं करेंगे। मिश्रा ने बताया कि टीम सदस्य क्षेत्र में सफाई अभियानों से जुड़कर सफाई का संदेश दे रहे हैं। अब प्रति रविवार अलग-अलग क्षेत्र में अभियान चलाकर लोगों को शोकपत्र बांटकर जागरूक किया जाएगा।

यह लिखा शोक पत्र में : 'अत्यंत दुख के साथ सूचित करने में आता है कि कई प्रकार की घातक बीमारियों की जननी और गंदगी की करीबी रिश्तेदार पॉलीथिन का निधन (बंद) दो अक्टूबर 2019 को हो चुका है। अत: आपसे निवेदन है कि सिंगल यूज पॉलीथिन और प्लास्टिक का उपयोग न कर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें। अपने आसपास स्वच्छता बनाए रखें।' उठावना की जगह लिखा है कि 'प्रतिदिन कचरा गाड़ी आने के समय कचरा डालें'। वहीं नीचे नोट में लिखा कि 'कचरा इधर-उधर न फेंकें और दूसरों को भी मना करें। गंदगी फै लाने वाले व्यक्तियों पर नियमानुसार जुर्माना, नगरीय क्षेत्र सेंधवा में प्रभावशील रहेगा'। अंत में 'शोकाकुल हम और आप' लिखा था।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना