सेंधवा (नईदुनिया न्यूज)। पिछले साल लक्ष्य अभियान के तहत राज्य स्तरीय निरीक्षण में सिविल अस्पताल के मैटननिटी विभाग को 80 अंक मिलने और गत दिनों वर्चुअल मॉक डिल में 87 प्रतिशत अंक प्राप्त होने के बाद बुधवार को को सिविल अस्पताल का दिल्ली से राष्ट्रीय स्तर का वर्चुअल निरीक्षण हुआ। सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक चले निरीक्षण में दिल्ली से स्वास्थ्य विभाग के केंद्रीय निरीक्षक सुनील शर्मा ने अस्पताल के लेबर रूम, ऑपरेशन थियेटर का निरीक्षण किया। वहीं गर्भवती को अस्पताल लाने से प्रसव तक की प्रक्रिया को देखा। वहीं स्टाफ, डॉक्टर्स और प्रसूता से चर्चा की। वहीं निरीक्षण के दौरान देखा गया कि प्रसूताओं को अस्पताल में किस प्रकार की सुविधाएं दी जा रही है। साथ ही मातृ मृत्यु दर और शिशु मृत्यु दर को लेकर क्या स्थिति है। उसे कम करने के लिए क्या काम किया जा रहा है। इसके अलावा लेबर रूम के स्टाफ से भी चर्चा कर प्रसव कराने और सावधानियों को लेकर चर्चा की गई। निरीक्षण के दौरान बीएमओ डॉ. ओएस कनेल, डॉ. दिनेश अग्रवाल सहित स्टाफ मौजूद रहा।

एक नजर लक्ष्य योजना पर

केंद्र सरकार द्वारा मातृ, शिशु मृत्यु दर कम करने को लेकर लक्ष्य योजना शुरू की गई है। जिसके तहत सरकारी अस्पताल में लेबर रूम व ओटी में प्रसूताओं को आधुनिक सुविधाएं देने पर काम किया जा रहा है। योजना के तहत सिविल अस्पताल का चयन हुआ है। कोरोना संक्रमण के कारण बुधवार को वर्चुअल निरीक्षण हुआ।

क्वालीफाई होने से अस्पताल और रोगियों को होंगे फायदे

- लक्ष्य योजना में राष्ट्रीय टीम की ओर से क्वालीफाई होने के बाद सिविल अस्पताल को प्रति वर्ष लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर के लिए सालाना प्रोत्साहन राशि मिलेगी। यह राशि लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर में सुविधा विस्तार पर खर्च होगी।

- प्रसूताओं व नवजात शिशु की मृत्यु दर कम होगी। वहीं प्रसूताओं व शिशुओं को लेकर सुविधाओं में विस्तार से फायदा होगा। लक्ष्य कार्यक्रम के तहत स्तरीय बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने की योजना है।

बेहतर अंक मिलेंगे

बीएमओ डॉ. ओएस कनेल ने बताया कि सिविल अस्पताल में प्रसव की संख्या बढ़ी है। वर्तमान में प्रतिमाह 200 से 250 प्रसव हो रहे है।आज दिल्ली से राष्ट्रीय स्तर के वर्चुअल निरीक्षण में अस्पताल के लेबर रूम व ओटी को बेहतर अंक मिलने की पूरी संभावना है। इसके बाद अस्पताल में प्रसूताओं के लिए सुविधाएं और दुरूस्त होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस