राजपुर (बड़वानी)। राजपुर में दूसरे दिन रविवार को भी फर्जी डॉक्टरों पर कार्रवाई की गई। एसडीएम बीएस कलेश के निर्देश पर नायब तहसीलदार छगनलाल नागराज ने पलसूद रोड स्थित राजेश दवाखाने की जांच की।

जांच में सामने आया कि बिना मान्य डिग्री के डॉक्टर बन एसके सरकार मरीजों को गोली-दवाऔर बॉटल से उपचार करता है। साथ ही मरीजों को धागा बांध उनसे ठगी भी करता है। धागा बांधने के 700 रुपए तक वसूले जाते हैं। इसके बाद नायब तहसीलदार ने क्लिनिक सील कर दिया।

कार्रवाई के दौरान क्लिनिक पर 3 मरीज भर्ती मिले। मरीज मूनि पति अंबाराम निवासी दानोद ने बताया कि उनको बुखार आया था। डॉक्टर ने भर्ती कर बॉटल चढ़ाई है। पूरी तरह से ठीक करने का दावा करते हुए कथित डॉक्टर 700 रुपए में धागा भी बांधते हैं। पत्रकारों को देख कथित डॉक्टर भड़कते हुए बोला कि जैसा छाप सकते हो छाप दो। मैं डॉक्टरी करता रहूंगा और धागे भी बांधता हूं। कार्रवाई की सूचना लगते ही अन्य दवाखानों पर ताले लग गए।

Posted By: