Betul Road Accident: बैतूल। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के परतवाड़ा मार्ग पर ग्राम झल्लार में रात करीब दो बजे बस और टवेरा कार की टक्कर होने से जीप में सवार 11 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मृतकों में 5 पुरुष, 4 महिलाएं और दो बच्चे शामिल हैं। बैतूल पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने बताया कि झल्लार के पास खाली जा रही बस क्रमांक एमपी 48 पी 0193 और टवेरा कार के बीच टक्कर हो गई। कार में सवार सभी लोग मजदूर हैं जो महाराष्ट्र के कलम्भा से अपने गांव लौट रहे थे। चार शवों को क्षतिग्रस्त कार के हिस्सों को काटकर बाहर निकाला गया है। टक्कर इतनी जबर्दस्‍त थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। साथ ही बस का अगला हिस्‍सा भी क्षतिग्रस्‍त हो गया। इस हादसे में बस चालक यशवंत परते घायल हो गया। सूचना मिलने के बाद बैतूल कलेक्टर और एसपी सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे।

प्रधानमंत्री व मुख्‍यमंत्री ने जताया शोक

इस घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी शोक व्‍यक्‍त किया है। प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 02-02 लाख और घायल के लिए 50000 रुपये की राशि देने की घोषणा की गई है। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने भी मृतकों के परिजनों को रु.2-2 लाख तथा घायलों को रु.10-10 हजार सहायता राशि देने का ऐलान किया है। घायलों का इलाज निश्‍शुल्क किया जाएगा।

घटना को लेकर मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने ट्वीट करते हुए लिखा - बैतूल जिले के झल्लार में भीषण सड़क दुर्घटना का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ। मैं ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। दुःख की इस घड़ी में हम शोकाकुल परिवार के साथ है।

पूर्व मुख्‍यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के अध्‍यक्ष कमल नाथ ने भी घटना पर दुख व्‍यक्‍त करते हुए ट्विटर के जरिए पीड़ित परिवारों के प्रति शोक संवेदनाएं जाहिर कीं और सरकार व प्रशासन से उनकी हरसंभव मदद की अपील की।

कार के हिस्सों को काटकर शव बाहर निकाले

टक्कर इतनी तेज रफ्तार में हुई कि कार का अगला हिस्सा बस में धंसकर पिचक गया। इससे सामने की सीट पर बैठे दो लोगों के साथ चालक के शव को कार के हिस्सों को काटकर बाहर निकाला गया। बुलडोजर की मदद से पुलिस से कार को हटाया।

20 दिन बाद घर लौट रहे थे मजदूर, रास्ते में हो गया हादसा

बैतूल जिला मुख्यालय से करीब 35 किमी दूर परतवाड़ा मार्ग पर ग्राम झल्लार में बस और जीप की टक्कर में जान गंवाने वाले 11 लोग करीब 20 दिन बाद अपने घर लौट रहे थे। महाराष्ट्र में मजदूरी करने के बाद वापस लौटते समय रास्ते में हादसे ने उनकी जान ले ली। जिस जीप में सवार होकर वो लौट रहे थे, उसके चालक को अचानक झपकी आई, जिसके कारण जीप अनियंत्रित होकर तेज रफ्तार से बस से टकरा गई। कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस ने बताया कि बस और जीप की टक्कर में 11 लोगों की मौत हुई है। इनमें छः पुरुष, तीन महिलाएं और दो बच्चे शामिल हैं जो मेंढ़ा, चिखलार और महतगांव के हैं।

हादसे में इन्‍होंने गंवाई जान

मृतकों में लक्ष्मण पिता सुखराम भुसमकर (30) निवासी मेंढ़ा, किशन पिता लीलाजी मावस्कर (32) निवासी महतगांव, कुसुम पति किशन मावसकर (28) निवासी महतगांव, अनारकली पति केजा मावस्कर (35) महतगांव, संध्या पिता केजा (5), अभिराज पिता केजा उम्र डेढ़ वर्ष, अमर धुर्वे पिता साहबलाल धुर्वे (35) निवासी चिखलार, मंगल पिता नन्हेसिंह उईके (37), नंदकिशोर धुर्वे (48), श्यामराव पिता रामराव झरबड़े (40) और रामकली पति श्यामराव (35) निवासी चिखलार शामिल हैं।

झल्लार में कराया जा रहा पोस्टमार्टम

हादसे की सूचना मिलने के बाद प्रशासन और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे। कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस ने बताया कि दुखद घटना हुई है। झल्लार में ही पोस्टमार्टम कराने के बाद शवों को पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है।

पति-पत्नी और मां के साथ दो बच्चों ने जान गंवाई

बस और जीप की टक्कर में जिन 11 लोगों की मौत हुई है, उनमें महतगांव के पति-पत्नी और मां के साथ दो बच्चे शामिल हैं। गांव के किशन और उसकी पत्नी कुसुम के अलावा अनारकली और उसकी पांच साल की बेटी और डेढ़ साल के बेटे की मौत हुई है।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close