बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले की चिचोली नगर परिषद में लगातार तीसरी बार भाजपा ने अपना कब्जा जमा लिया है। मंगलवार को हुए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव में भाजपा की वर्षा मालवीय अध्यक्ष चुन ली गईं। 11 पार्षदों ने उनके पक्ष में मत दिए जबकि कांग्रेस की प्रत्याशी को मात्र चार वोट ही मिल पाए। सारणी नगर परिषद में बुधवार को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव होगा। चिचोली नगर परिषद में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष चुनाव के लिए सुबह से ही गहमा-गहमी का माहौल बना हुआ था। भाजपा की ओर से वर्षा मालवीय को मैदान में उतारा जबकि कांग्रेस की ओर से अनीता आर्य ने नामांकन पत्र जमा किया था। 15 पार्षदों में से 11 ने भाजपा की वर्षा मालवीय के पक्ष में मतदान किया जबकि कांग्रेस प्रत्याशी अनीता को मात्र चार मत ही मिले। अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए रणनीति बनाने के लिए भाजपा के जिला प्रभारी सुजीत जैन, पर्यवेक्षक सुरेंद्र जैन, पूर्व विधायक हेमंत खण्डेलवाल, जिला भाजपा अध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला, पूर्व नप अध्यक्ष संतोष मालवीय, पूर्व जिला भाजपा अध्यक्ष अनिल सिंह कुशवाह समेत अन्य नेता पूरे समय मौजूद रहे।

उपाध्यक्ष पद के लिए हुए चुनाव में भाजपा ने वर्षा संजय आवलेकर को प्रत्याशी बनाया था जबकि कांग्रेस ने नेहा रूपेश आर्य को मैदान में उतारा। मतदान में भाजपा की र्षा संजय आवलेकर को 11 एवं कांग्रेस की नेहा रूपेश आर्य को मत मिले। इस तरह उपाध्यक्ष के पद पर भी भाजपा ने अपना कब्जा जमा लिया। उल्लेखनीय है कि नगर परिषद के अध्यक्ष पद पर चिचोली का मालवीय परिवार तीसरी बार काबिज हुआ है। वर्ष 2010 में चिचोली नगर परिषद के पहली बार गठन के बाद अध्यक्ष के सीधे निर्वाचन में भाजपा की सुलोचना संतोष मालवीय निर्वाचित हुईं थी। इसके उपरांत 2015 के चुनाव में भी सीधे निर्वाचन में भाजपा के ही संतोष मालवीय अध्यक्ष चुने गए थे। अब 2022 के तीसरे अप्रत्यक्ष चुनाव में भी मालवीय परिवार की छोटी बहू वर्षा रितेश मालवीय अध्यक्ष बन गई हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close