फोरलेन बायपास पर खरसाली मार्ग के पास हुआ हादसा

फोटो-7 बीटीएल 11

मुलताई। दुर्घटना में हुई एक की मौत।

मुलताई। फोरलेन बायपास मार्ग पर दोपहर लगभग 2.30 बजे एक तेज गति से नागपुर की ओर जा रही पिकअप वाहन की चपेट में बाइक पर सवार 2 युवकों के आने से एक की जहां मौके पर ही मौत हो गई, वहीं दूसरा घायल हो गया। दुर्घटना के बाद सूचना पर संजीवनी 108 तो मौके पर तत्काल पहुंच गई, लेकिन डायल 100 लगभग आधा घंटा विलंब से पहुंची जिसके बाद हाईवे पर पड़े शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लाया गया। घटना के बाद पिकअप चालक वाहन लेकर फरार हो गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पांढूर्णा के पास स्थित पिपल्या नारायणवार निवासी धीरज डौंडी उम्र लगभग 22 वर्ष अपने मौसेरे भाई जितेन्द्र कालभोर उम्र लगभग 20 वर्ष के साथ बाइक क्रमांक एमपी 28 एम जे 3240 से मुलताई मेला देखने आ रहा था। खरसाली मार्ग के पास बाइक मुलताई की ओर डिवाइडर क्रास करके मुड़ी। इसी दौरान बैतूल से नागपुर की ओर जा रही एक पिकअप की चपेट में बाइक आ गई, जिससे बाइक के परखच्चे उड़ गए और जितेन्द्र कालभोर का सिर पिकअप के टायर में आने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं धीरज घायल हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पिकअप सफेद रंग की है, जिसका नंबर यूपी 65 एफटी 2307 बताया जा रहा है। आसपास के लोगों ने बताया कि अचानक तेज आवाज आने के साथ ही बाइक से दोनों युवक गिरते नजर आए तथा पिकअप भागते हुए दिखी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एक पल में हादसा हो गया, जिससे आने-जाने वाले लोग भी दुर्घटना स्थल पर रुके, लेकिन तब तक जितेन्द्र की मौत हो चुकी थी। जिसमें कुछ लोगों द्वारा तत्काल संजीवनी 108 को सूचना दी गई। वहीं डायल 100 को भी सूचित किया गया।

अचानक हुई दुर्घटना से घायल युवक आया सदमे में

अपने मौसेरे भाई के साथ खुशी-खुशी मेला देखने मुलताई आ रहे धीरज को शायद ही पता होगा कि मुलताई में प्रवेश करने के पहले ही मौत उसके भाई जितेन्द्र का इंतजार कर रही है। अचानक हुए हादसे में जितेन्द्र की मौत से धीरज को मानो सदमा लग गया। घायल होने के बावजूद वह उपचार के लिए जाने को तैयार नहीं था। वहीं अस्पताल में भी डाक्टरों से निवेदन कर रहा था कि मुझे मेरे भाई जितेन्द्र के साथ ही जाना है। बड़ी मुश्किल से चिकित्सकों सहित अन्य लोगों द्वारा उसे समझाया गया। धीरज ने बताया कि दोनों भाई यह सोच के निकले थे कि मेले में जमकर मजा करेंगे, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था।

पौन घंटे बाद पहुंची डायल 100

सूचना पर संजीवनी 108 तो मौके पर तत्काल पहुंची, लेकिन एक युवक की मौत हो जाने से डायल 100 को फोन लगाया गया, लेकिन हादसे के लगभग पौन घंटे बाद डायल 100 मौके पर पहुंची। इस दौरान युवक का शव हाईवे पर ही पड़ा रहा और उसके ठीक बाजू से फर्राटे से वाहन गुजरते रहे। मौके की गंभीरता को देखते हुए उपस्थित लोगों ने हाईवे पर गुजरते हुए वाहनों को दूर से जाने की गुहार लगाई गई। इधर पौन घंटे बाद डायल 100 सहित पुलिस ने पहुंचकर शव को एनएचएआई की एंबुलेंस से अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए लाया ।

फोरलेन बायपास मार्ग पर डेंजर जोन हैं तीन स्पॉट

फोरलेन बायपास पर तीन स्पॉट डेंजर जोन हो गए हैं जहां अब तक कई मौतें हो चुकी हैं, लेकिन एनएचएआई द्वारा समस्या का कोई स्थाई हल नहीं निकालने से लगातार मौतें हो रही है। पहला स्पॉट खरसाली मार्ग चौराहा है, जहां शनिवार को एक मौत हुई। इसके पूर्व भी उक्त स्थल पर कई मौतें हो चुकी हैं। दूसरा स्पॉट सोनोली मार्ग चौराहा है, जहां भी कई दुर्घटनाएं हो चुकी हैं तथा तीसरा बिरूल बाजार मार्ग चौराहा है, जहां सबसे अधिक मौतें हुई हैं। लगातार हादसों से नगरवासियों द्वारा एनएचएआई से सुरक्षा एवं सतर्कता की दृष्टि से बदलाव की मांग की जा रही है, लेकिन समस्या का कोई हल नही निकलने से हादसे जारी हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket