- मुलताई की शिक्षिका निशा हजारे आगामी 1 मार्च को दिल्ली में होंगी सम्मानित

फोटो------------22बीटीएल24

बैतूल। शिक्षिका निशा हजारे। फोटो- नवदुनिया

फोटो------------22बीटीएल25

बैतूल। लाइब्रेरी में छात्राओं को अध्ययन करवाते हुए शिक्षिका निशा हजारे। -फाइल फोटो

उत्तम मालवीय, बैतूल (नवदुनिया)

बिना कोई राशि खर्च किए बच्चों के लिए किए गए उपयोगी नवाचारों के लिए मुलताई की एक शिक्षिका को राष्ट्रीय स्तर के सम्मान के लिए चयनित किया गया है। श्री अरविंदो सोसायटी दिल्ली द्वारा दिया जाने वाला यह सम्मान उन्हें 1 मार्च को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल प्रदान करेंगे। इस सम्मान के लिए प्रदेश से मात्र 37 और देश भर के 100 शिक्षकों का चयन किया गया है।

शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मुलताई में पदस्थ गणित की शिक्षिका निशा हजारे ने पिछले साल तक शासकीय नवीन माध्यमिक शाला हरदौली में पदस्थ रहते हुए कई नवाचार किए थे। पहला नवाचार यह था कि हाजरी लिए जाने पर बच्चे यस सर या प्रेजेंट सर की जगह जिले, राज्य, सीएम, पीएम कलेक्टर के नाम लेना होता था। इससे उनका सामान्य ज्ञान बढ़ता था। दूसरा नवाचार स्कूल के पुस्तकालय को समृद्ध बनाकर उनसे प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराना था। इसके लिए उन्होंने अन्य लोगों से भी उनके पास उपलब्ध पुस्तकें मंगवा कर लाइब्रेरी में रखवाई। लंच ब्रेक के बाद 30 मिनट का एक पीरियड लाइब्रेरी का तय किया। इसमें बच्चों को पुस्तकें पढ़ना होता है और प्रश्न बनाना होता था। इसके बाद बच्चों का एक समूह दूसरे समूह से सवाल करता था। विजेता समूह को ट्राफी देकर प्रोत्साहित किया जाता था। इसी तैयारी के कारण बीते साल मींस कम मेरिट परीक्षा में शामिल हुए 8 में से 4 बच्चों का चयन हुआ। इसी तरह गायत्री परिवार की संस्कृति ज्ञान परीक्षा में शामिल 22 में से 2 बच्चे जिला स्तर पर प्रथम व द्वितीय आए। बच्चों के लिए यह भी व्यवस्था बनाई गई कि पूरे दिन में उन्होंने जो भी अच्छा काम किया, उसे प्रार्थना में सबको बताना होता था। जनसहयोग से स्कूल के लिए टेबल, बेंच, पंखों की व्यवस्था करवाई। तबादले के बाद स्कूल को कम्प्यूटर भेंट किया। श्रीमती हजारे स्वयं भी प्रत्येक नवरात्र पर छात्राओं को स्वेटर, जूते सहित उपयोगी सामग्री भेंट करती थीं। इन्हीं सब नवाचारों से गांव के शत-प्रतिशत बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं। पड़ोसी गांवों से भी कुछ बच्चे आते हैं।

वे बोले...

शिक्षिका निशा हजारे के चयन संबंधी सूचना प्राप्त हो गई है। जिले में करीब 500 नवाचारी शिक्षक हैं। मेरा प्रयास है कि इनके नवाचारों को ज्यादा से ज्यादा सामने लाया जाए, ताकि अन्य शिक्षकों को भी कुछ प्रेरणा मिल सके।

आईडी बोड़खे, जिला परियोजना समन्वयक, बैतूल

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket