बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में खरीफ मौसम की मुख्य फसल सोयाबीन के खराब हो जाने से अब किसान सब्जी उत्पादन का मन बना रहे हैं। कई किसानों ने आलू और लहसुन की खेती करने के लिए तैयारी तो कर ली है परंतु बीज के दाम लगातार बढ़ने से वे कदम पीछे खींचने का मन बना रहे हैं। सब्जी मंडी में आलू बीज के दाम 40 से 45 रुपये प्रति किलो हो गए हैं वहीं लहसुन का बीज 135 से 150 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रहा है। खरीफ सीजन की फसल से हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए किसान कम दिन में पैदा होने वाली आलू की फसल बोने के लिए कृषि विभाग के अधिकारियों और कृषि विज्ञानी से संपर्क कर रहे हैं। कुछ किसानों ने तो खेतों की जुताई करना भी प्रारंभ कर दिया है लेकिन बेहद मंहगा बीज उन्हें खतरा उठाने में बाधक बन रहा है। बैतूलबाजार के कृषक अश्वनी चौधरी ने बताया कि 4 एकड़ रकबे में बोई गई सोयाबीन की फसल पूरी तरह से खराब हो गई थी। फसल को ट्रैक्टर चलाकर जमीन में मिला दिया गया है। अब रबी सीजन की फसल की बुवाई में 3 माह का समय होने के कारण आलू की फसल लगाने का निर्णय लिया है। सब्जी मंडी में जब बीज की खरीदी करने के लिए पहुंचे तो दाम अधिक होने के कारण बैरंग लौट आए। कृषक राजू महाजन ने बताया कि सोयाबीन खराब हो गया है और उसे काटकर खेत से बाहर कर रहे हैं। इसके बाद लहसुन की खेती करने का मन बनाया तो है लेकिन बीज के दाम अधिक होने से अभी खरीदा नही है। कुछ किसानों के द्वारा मंहगा बीज तो खरीद लिया है लेकिन लगातार हुई बारिश से बुवाई नहीं कर पाए और वह खराब हो रहा है। हनोतिया गांव के किसान अवधेश वर्मा ने बताया कि इस बार आलू का बीज 45 रुपये प्रति किलो के भाव बिक रहा है। 15 दिन पहले ही उन्होंने बीज तो खरीद लिया था लेकिन बारिश की वजह से खेत तैयार नहीं हो पाए और बोरियों में रखा बीज खराब होने लगा है। लहसुन की पिछले कई वर्ष से खेती कर रहे सोहागपुर के किसान दिलीप गुरुजी ने बताया कि बीज मंहगा भी है तो किसानों को इससे डरना नही चाहिए। इसकी अच्छी पैदावार होने से खरीफ और रबी सीजन की फसलों से भी अधिक लाभ किसान को मिल जाता है। कृषि विज्ञान केंद्र के प्रमुख डॉ. व्हीके वर्मा ने बताया कि कई किसानों ने उनसे आलू की खेती करने के लिए मार्गदर्शन मांगा है। कम दिन में फसल तैयार हो जाती है और उसके बाद किसान मूंग, उड़द जैसी नकद फसलें भी ले सकते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020