बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भगवान वाल्मीकि सामाजिक समरसता के प्रतीक हैं, उन्होंने जो दर्शन दिया है वह समाज के हर वर्ग का उत्थान करने वाला है। यह बात आमला विधायक योगेश पंडाग्रे ने भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा द्वारा आयोजित वाल्मिकी जयंती कार्यक्रम में व्यक्त किए।

इस मौके पर कोरोना वारियर्स, प्रतिभावान बच्चों, बुजुर्गों का सम्मान भी किया गया। कार्यक्रम अध्यक्षता कर रहे मोर्चा जिलाध्यक्ष किशोर मोहबे ने भगवान वाल्मीकि के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि एक घटना ने डाकू रत्नाकर का जीवन इतना बदल दिया कि वे एक महान संत बन गए। उनके द्वारा रचित महाकाव्य रामायण आज घर-घर में पूजा जाता है। कार्यक्रम में वाल्मीकि समाज के अध्यक्ष कमलेश चित्रहार, मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष सतीष जौंधलकर, जिला महामंत्री अनिल मंडलकर, गंज मंडल अध्यक्ष विकास मिश्रा, कोठीबाजार मंडल अध्यक्ष विक्रम वैद्य, पार्षद ममता भटट, पूर्व नगर अध्यक्ष राजेश आहूजा, सतीष बौरासी, अरूण नाकोड़े, सुरेश गायकवाड़, रिंकू करोसिया सहित मोर्चा कार्यकर्ता और वाल्मीकि समाज के लोग मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags