मुलताई (नवदुनिया न्यूज)। नवरात्र के अंतिम दिन नवमी पर्व पर नगर में गुरुवार पूरे दिन सार्वजनिक दुर्गा मंडलों सहित घरों में हवन पूजन, भंडारे एवं कन्या भोज का आयोजन हुआ। श्रद्धालुओं ने सुबह से ही सजी संवरी देवी स्वरूपा कन्याओं के पांव पखार कर उन्हे भोजन कराया तथा उनका आशीर्वाद प्राप्त किया गया। कन्याओं ने भी नन्हे-नन्हे हाथों से प्रसादी ग्रहण की। सुबह से लेकर शाम तक पूरे नगर में हवन सहित जगह जगह धार्मिक अनुष्ठान होते रहे जिससे पूरे नगर का माहौल धर्ममय नजर आया। इधर सार्वजनिक दुर्गा उत्सव मंडलों में पूरे दिन भंडारा प्रसादी वितरण का आयोजन होते रहा जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। मान्यता के अनुसार नवरात्र की नवमीं पर कन्याओं को माता का स्वरूप मानकर उन्हें भोजन कराया जाता है। इस दौरान उनके पांव पखार का आशीर्वाद भी लिया जाता है। गुरुवार सुबह से ही घरों-घर कन्या भोज का आयोजन हुआ जिसमें कन्याओं को खीर पुड़ी एवं चने की सब्जी की प्रसादी खिलाई गई। इस दौरान प्रसादी ग्रहण कर रही कन्याएं माता के स्वरूप में नजर आईं।

अस्पताल परिसर सहित जगह-जगह हुए भंडारे आयोजितः

नगर में सार्वजनिक दुर्गा उत्सव मंडलों में भंडारा प्रसादी का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। बैतूल रोड स्थित दुर्गा मंडल, ताप्ती तट स्थित एकता नवदुर्गा उत्सव मंडल सहित अन्य मंडलों में भंडारा प्रसादी का आयोजन किया गया वहीं शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में भी इस वर्ष दुर्गा प्रतिमा की स्थापना कर गुरुवार भंडारे का आयोजन किया गया। बीएमओ पल्लव अमृतफले ने बताया कि इस वर्ष अस्पताल स्टाफ ने मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना परिसर में की थी। नौ दिनों तक विधि विधान से पूजा अर्चना की गई तथा गुरुवार भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की।

आज होगा प्रतिमाओं का विसर्जनः

नगर में शुक्रवार दशमी पर्व पर जगह-जगह स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाएगा। इसके साथ ही घरों में स्थापित घटों का भी विसर्जन होगा। कोरोना प्रोटोकाल के चलते इस वर्ष भी नियमों के तहत ही देवी स्थापना की गई है इसलिए प्रशासन द्वारा भी यही प्रयास रहेगा कि एक ही दिन सभी प्रतिमाओं का विसर्जन हो सके। पूर्व के वर्षों में दशमी से आगे तीन चार दिनों तक प्रतिमाओं का विसर्जन होते रहता था। इधर नगर पालिका द्वारा बुकाखेड़ी प्रतिमा विसर्जन स्थल पर प्रतिमाओं के विसर्जन की तैयारियां पूरी कर ली हैं तथा उक्त स्थल पर प्रकाश व्यवस्था सहित, दो बेड़े एवं नाव आदि तैयार हैं जिससे प्रतिमाओ का विसर्जन जलाशय में किया जाएगा। इसके अलावा सुरक्षा एवं सतर्कता की दृष्टि से भी नपा द्वारा गोताखोर आदि की भी व्यवस्था की गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local