बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रामलीला एवं दशहरा उत्सव के तहत शुक्रवार शाम को विजय जुलूस निकलेगा। इसके बाद लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में रावण-कुंभकरण के पुतलों का दहन होगा। विजय जुलूस गंज स्थित श्री कृष्ण मंदिर से प्रारंभ होगा जिसमें श्री कृष्ण पंजाब सेवा समिति के पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि और नागरिक शामिल रहेंगे। पंजाब युवा सेवा समिति व श्री कृष्ण पंजाबी महिला कीर्तन मंडल के सदस्य गरबा-डांडिया करते हुए साथ चलेंगे। आयोजन समिति ने बताया कि लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में रावण-कुंभकरण के पुतलों के दहन से पूर्व राम-रावण युद्ध का मंचन और रंगीन आतिशबाजी का प्रदर्शन होगा। इस बार 60 फीट रावण और 55 फीट कुंभकरण का पुतला बनाया गया। 20 हजार वर्गफीट में पुतलों का दहन होगा। स्टेडियम में पुतले दहन करने वाले एरिया को बेरिकेट्स से बंद किया हुआ है। कोरोना गाइड लाइन का पालन करने के लिए स्टेडियम में चूना डाला गया है और गोले लगाए गए। रावण दहन कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए है। सुरक्षा की दृष्टि से 300 से साढ़े तीन सौ सुरक्षा जवानों को तैनात किया जाएगा। पुलिसकर्मियों की हर हरकत पर नजर बनी रहेगी। किसी प्रकार से कोई अप्रिय घटना न हो इसका पूरा ध्यान रखा जाएंगा। पुलिस अधिकारी भी सुरक्षा व्यवस्था पर पूरे समय नजर बनाएं रखेंगे।

नवमी पर हुए हवन और कन्या पूजनः

गुरुवार को नवमी पर जगह-जगह हवन पूजन और कन्याभोज का आयोजन किया गया। भक्तों के द्वारा नौ दिन तक उपवास रखकर मां की आराधना की। हवन पूजन करने के बाद कन्या भोज के साथ ही भक्तों के द्वारा उपवास भी समाप्त किया गया। नगर के विभिन्ना मंडलों में तो शाम होते ही दर्शन करने के लिए पहुंच रहे भक्तों को प्रसादी का वितरण किया गया। कई स्थानों पर रात में भी कन्या भोज का आयोजन होता रहा।

दुर्गा मंदिर कोठीबाजार में हुई महाआरतीः

शहर में गायत्री मंदिर क्लर्क कॉलोनी सिविल लाइन, छिन्ना मस्तिका माता मंदिर काशी तालाब सदर, आइका भोजनालय के पास हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, साईं सेवा समिति एक्सिस बैंक के पास, खप्पर वाली माता मंदिर भग्गूढाना, शिव मंदिर भग्गूढाना, साईं समिति चांदनी चौक टिकारी, नवयुवक दुर्गा उत्सव समिति न्यू बैतूल स्कूल के पास गंज, टिकारी में एमपीईबी कार्यालय, भारत भारती जामठी मान फ्यूल सहित अन्य स्थानों पर भंडारों का आयोजन किया गया। दुर्गा मंदिर कोठीबाजार में भी सुबह हवन-पूजन के साथ महाआरती की गई। इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

विसर्जन की तैयारी में जुटा प्रशासनः

शुक्रवार को मां दुर्गा, भोलेनाथ और मां काली की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाएगा। इसके लिए प्रशासन ने करबला घाट और माचना नदी के तट पर इंतजाम किए हैं। गुरुवार को एएसपी नीरज सोनी के साथ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने विसर्जन स्थलों का निरीक्षण किया और वहां पर सुरक्षा के लिए समुचित उपाय करने के निर्देश दिए। प्रशासन द्वारा चल समारोह की अनुमति नहीं दी है लेकिन विभिन्ना मंडलों के द्वारा बैंड बाजे और डीजे के साथ नाचते गाते हुए प्रतिमाओं को विसर्जन स्थल तक ले जाया जाएगा। इससे चल समारोह जैसा नजारा लोगों को देखने के लिए मिलेगा।

शहर के विभिन्ना मार्ग पर आवाजाही रहेगी बंदः

शुक्रवार को बैतूल नगर में दशहरा पर्व पर लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम बैतूल में रावण दहन कार्यक्रम के दौरान यातायात व्यवस्था में बदलाव किए गए हैं। पुलिस ने सदर से आने वाले वाहनों की पार्किंग पुलिस ग्राउंड पर, कोठीबाजार से आने वाले वाहनों की पार्किंग उत्कृष्ट स्कूल मैदान पर, व्हीआईपी पार्किंग शिवाजी ऑडिटोरियम बैतूल में की है। शाम साढ़े चार बजे से रात आठ बजे तक नेहरू पार्क से कंट्रोल रूम बैतूल तक, ताहा ऑटोमोबाईल्स से पुलिस कन्ट्रोल रूम चौक तक, महिला बाल विकास ऑफिस चौक (कलेक्ट्रेट कार्यालय मार्ग पर) के सामने से सर्किट हाउस तक और जनसंपर्क कार्यालय कालापाठा मार्ग से पुलिस कन्ट्रोल रूम चौक तक नो व्हीकल जोन रहेगा। जिनमें केवल वाहनों को प्रतिबंधित कर पैदल जाने की अनुमति रहेगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local