शाहपुर (नवदुनिया न्यूज)। तहसील मुख्यालय से लगभग 12 किमी की दूरी पर घोड़ाडोंगरी अर्जुनगुंदी रोड पर नाले पर बनी पुलिया पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो चुकी है। जिससे कभी भी बड़ी दुर्घटना घट सकती है। मार्ग से गुजरने वाले राहगीरों के मन मे छतिग्रस्त पुलिया से हादसा होने की आशंका बनी रहती है। इस रोड पर बना पुलिया जर्जर हो चुका है। पुलिया पर बडे बडे पत्थर निकल आये हैं साथ ही गड्ढे हो गये है नाले का पानी पुलिया के धसने से ऊपर से बह रहा है । पुलिया का दोनों तरफ का काटन वाल टूट चुका है। इस मार्ग से दर्जनों गांव का आवागमन रहता है साथ ही घोड़ाडोंगरी मुख्यालय होने के चलते यह मार्ग पाढर तरफ के दर्जनों गांवों के हजारों लोग रोज इसी मार्ग से घोड़ाडोंगरी आना जाना करते हैं । यह मार्ग घोड़ाडोंगरी नेशनल हाइवे 69 को जोड़ता भी है। अर्जुन गुंदी मार्ग पर स्थित पुलिया क्षतिग्रस्त होने से और भी खतरनाक हो गयी है। लेकिन जिम्मेदार कुम्भकर्णी नींद में सो रहे है। उन्हें यह छतिग्रस्त पुलिया दिखाई नही दे रही है। इस समय लगातार तेज बारिश का दौर भी चल रहा है साथ ही पुल पुलियाओं में लोगो के बहने के समाचार भी प्राप्त हो रहे हैं लेकिन विभाग किसी दुर्घटना का इंतार करने की रास्ता देख रहा है ।अर्जुनगोंदी मंदिर के आगे वाली पुलिया पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी हैं जिसमें बड़े-बड़े गड्ढे होने के कारण और पानी के तेज बहाव के कारण वहां से दोपहिया वाहन निकालना असंभव है लोग पुलिया के साइड से लंबी दूरी तय कर भारी कीचड़ ओर पानी मे से वाहन निकाल रहे हैं जिसमें एका एक ऊपर पहाड़ी की ओर से पानी आने का खतरा बना रहता है। फिर भी लोग जान को जोखिम में डालकर नदी पार कर रहे हैं यहां पुलिस प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की कोई लोगों को रोकने और समझाएं देने की व्यवस्था नहीं की गई है । राहगीर अपने वाहन को लेकर कब दुर्घटना के शिकार हो जाये, किसी को पता नही है। दर्जनों गांव के नौनिहाल भी समुचित शिक्षा के लिए रोजाना इसी मार्ग से साइकिल व वाहनों से आते-जाते है। ऐसे में सबसे अहम सवाल बनता है उन छोटे छोटे बच्चों के सुरक्षा की। जिसे लेकर हर आम पब्लिक चिंतित हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close