Betul News :मुलताई (नवदुनिया न्यूज)। प्रभात पट्टन विकासखंड के ग्राम डोहलन में टमाटर तोड़ने गए किसान की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई वहीं उसके साथ गया भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम डोहलन में हरिशंकर पिता लखनलाल 32 वर्ष एवं उसका भाई जयपाल टमाटर तोड़ने दोपहर गए थे। इसी दौरान वर्षा होने लगी जिससे दोनों भाई वर्षा से बचने के लिए पास ही पेड़ के नीचे जाकर खड़े हो गए। लगभग दो बचे अचानक तेज आवाज के साथ पेड़ पर आकाशीय बिजली गिरी जिसकी चपेट में दोनों भाई आ गए। मौके पर पहुंचे संजीवनी 108 के इएमटी महेश झलिए ने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने से हरिशंकर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई वहीं जयपाल गंभीर रूप से झुलस कर घायल हो गया। घायल को तत्काल समीपस्थ आठनेर के अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया गया। सूचना पर साईखेड़ा थाना से मौके पर पुलिस पहुंचकर पूरे मामले की जांच कर रही है।

नगर सहित पूरे क्षेत्र में लगातार बारिश से बढ़ी परेशानीः

इधर नगर में भी मंगलवार सुबह से ही रूक रूक कर बारिश हो रही है वहीं क्षेत्र में जगह जगह लगातार वर्षा होना बताया जा रहा है। वर्षा के कारण किसानों की फसलें चौपट हो चुकी हैं। ताईखेड़ा, रायआमला, आष्टा सहित अन्य गांवों में वर्षा के कारण खेत में पानी भरने से तालाब नजर आ रहे हैं। पानी के कारण फसलों की जड़ें गल गई हैं जिससे किसानों को भारी आर्थिक क्षति होने की संभावना है। किसानों ने बताया कि इस वर्ष दीपावली तक वर्षा हो रही है ऐसी स्थिति में अब फसलों का बचना मुश्किल हो गया है। फिलहाल वर्षा रूकने का नाम नहीं ले रही है जिससे नगर के किसानों के माथे पर भी चिंता की लकीरें गहरा गई हैं।

वर्षा से बाजार भी हुआ प्रभावित

दीपावली के पहले जहां बाजार में भारी गहमा गहमी रहती थी तथा पूरे बाजार में रौनक छाई रहती थी वहीं इस वर्ष वर्षा के कारण अपेक्षित ग्राहकी नजर नहीं आ रही है। बार बार वर्षा होने से ग्रामीण अंचलों से लोग नगर में नहीं आने से बाजार प्रभावित हो गया है। दुकानदारों ने बताया कि दीपावली का पूरा सप्ताह गहमा गहमी का होता है तथा दीपावली तक खासा धंधा होता है लेकिन इस वर्ष वर्षा के कारण सीधा ग्राहकी पर असर पड़ा है। इधर पटाखा व्यापारी भी वर्षा के कारण व्यवसाय को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने बताया कि वर्षा के कारण सबसे अधिक पटाखा बिक्री प्रभावित होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close