बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश कोटवार संघ के आह्वान पर जिले के कोटवार गुरुवार से 30 मई तक हड़ताल पर चले गए हैं। कलेक्ट्रेट के समक्ष कोटवारों ने धरना देकर अपनी मांगों को पूरा करने की मांग की है। कोटवार संघ ने विगत दिनों मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर 25 मई तक मांग पूरी करने की मांग की है। मांग पूरी नहीं होने की स्थिति में हड़ताल करने की चेतावनी दी थी। इसी के चलते कोटवार संघ ने 30 मई तक हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। ज्ञापन के माध्यम से कोटवार संघ ने बताया कि आगामी दो जून को सभी जिले से कोटवार भोपाल पहुंचकर अपनी मांगों के संबंध में धरना प्रदर्शन और अनिश्चितकालीन हड़ताल करने को बाध्य होंगे। कोटवार संघ के जिलाध्यक्ष मधु सरनकर ने बताया कि म.प्र. कोटवार संघ जिला बैतूल और प्रदेश कोटवार संघ द्वारा विगत कई वर्षों से अपनी दो सूत्रीय मांगो को लेकर शासन-प्रशासन को ज्ञापन देता आ रहा है। लेकिन आज तक कोटवारों की मांग का शासन द्वारा किसी भी प्रकार का कोई निराकरण नहीं किया गया है, जबकि प्रदेश में अन्य विभागों के कर्मचारियों के वेतन, भत्ते और अन्य सुविधाएं बढ़ा दी गई है। जिसके कारण पूरे प्रदेश के कोटवारो में आक्रोश व्याप्त है, जिससे दुखी होकर म.प्र. के सभी जिलो के कोटवारों द्वारा आम सहमति से धरना प्रदर्शन और हड़ताल का निर्णय लिया गया है। संघ की मांग है कि कोटवारों को शासकीय कर्मचारी घोषित किया जाए। अगर इसमें देरी हो रही है तो कलेक्टर दर पर वेतन दिया जाए। मालगुजारों द्वारा दी गई भूमि का मालिकाना हक प्रदान किया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close