Leopard in Amla Range : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के दक्षिण वन मंडल के अंतर्गत आने वाली आमला रेंज में एक से डेढ़ वर्ष की उम्र का तेंदुआ दो पेड़ों के बीच फंस गया। बुधवार सुबह गश्त कर रहे वन कर्मियों ने उसे फंसी अवस्था में देखा। इसके बाद सतपुड़ा टाइगर रिजर्व होशंगाबाद की टीम को सूचना दी गई। दोपहर बाद टीम ने मौके पर पहुंचकर उसे बेहोश करने के बाद सुरक्षित पेड़ों के बीच से निकाला। तेंदुआ को वन विहार भोपाल भेजा गया है। दक्षिण वन मंडल के डीएफओ टी विजयानंथम ने बताया कि बुधवार सुबह आठ बजे वन चौकी मोवाड़ का स्टाफ गश्ती करते हुए बीट के कक्ष क्रमांक - 499 में पहुंचा। वहां पर उन्हें एक तेन्दुआ दो पेड़ों के बीच में फंसा हुआ दिखा। आपस में सटे हुए दो पेड़ों के बीच से निकलते समय वह फंस गया था और बाहर नहीं निकल पा रहा था। वन कर्मियों द्वारा इसकी सूचना वनमंडलाधिकारी दक्षिण बैतूल, उप वनमंडलाधिकारी आमला तथा परिक्षेत्र अधिकारी आमला को दी। सूचना के आधार पर वनमंडलाधिकारी द्वारा सतपुड़ा टाईगर रिजर्व होशंगाबाद की रेस्क्यू टीम को जानकारी देकर मौके पर बुलाया। दोपहर बाद रेस्क्यू टीम डा गुरुदत्त शर्मा के नेतृत्व में बीट में पहुंची। सभी की की उपस्थिति में उसे सुरक्षित तरीके से बाहर निकाला गया। परीक्षण के बाद पाया गया कि पेड़ों के बीच फंसे नर तेन्दुआ की उम्र लगभग एक से डेढ़ वर्ष की है। उसे रेस्क्यू वाहन में सुरक्षित रखवाने के बाद वन विहार भोपाल के लिये परिक्षेत्र अधिकारी एवं उनके स्टाफ के साथ रवाना कर दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close