सारनी (नवदुनिया न्यूज)। कोयला खदान पाथाखेड़ा में श्रमिक संगठनों की सदस्यता अभियान सत्यापन के दौर में एटक यूनियन ने बड़ा उलटफेर करते हुए नंबर की पोजीशन पर बनी हुई है। दूसरे नंबर पर एचएमएस यूनियन है। बीएमएस यूनियन तीसरे नंबर पर खिसक गई है। जबकि वह कई वर्षों तक नंबर वन की पोजीशन पर बरकरार थी। हाल के वर्षों में आपसी खींचतान और श्रमिकों के बीच विश्वसनीयता की कमी के साथ श्रमिकों की समस्या का समाधान नहीं कर पाना ही प्रमुख कारण माना जा रहा है इसके उल्टे एटक यूनियन ने श्रमिकों के बीच पहुंच कर उनकी समस्याओं का समाधान करने तथा उनके साथ खड़े होकर विश्वास जीतने का ही नतीजा है आज वह पहली पोजीशन पर पहुंच रही है। अभी प्रथम चरण की सदस्यता सत्यापन हो चुका है। दूसरा चरण सितंबर माह में होगा। एटक यूनियन के श्रीकांत चौधरी ने बताया कि कोयला श्रमिकों की सदस्य सत्यापन के प्रथम चरण में सदस्यों की संख्या के आधार पर बढ़त बनाते हुए नंबर वन का खिताब के करीब पहुंच चुके है। यह सब श्रमिकों की समस्याओं का समाधान करने का प्रतिफल होगा। एचएमएस संगठन दो नंबर की स्थिति में बना हुआ है। वह एक नंबर पर पहुंचने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहा है। लेकिन इस बार एटक यूनियन को नंबर वन बनने से किसी भी श्रमिक संगठन द्वारा रोक पाना मुश्किल होगा। एटक यूनियन 911, बीएमएस 642, एचएमएस 796, इंटक 79 सदस्य संख्या के साथ चौथे पायदान पर है। करीब 3000 कर्मचारी अधिकारी कोयला खदान में कार्यरत है। दूसरे चरण में शेष 400 खदान श्रमिक ही हिस्सा ले सकेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close