MP Railway News: बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि )। हैदराबाद से हजरत निजामुद्दीन की ओर जाने वाली दक्षिण एक्सप्रेस के इंजन में गुरूवार दोपहर 1.45 बजे अचानक आग लग गई। ट्रेन के चालक ने तत्परता दिखाते हुए इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोका और अग्निशमन यंत्र की मदद से आग बुझाई। आग पर काबू पाने के बाद उसे धीमी गति से घोड़ाडोंगरी स्टेशन पर लाया गया और धाराखोह रेलवे स्टेशन से दूसरा इंजन बुलाकर उसकी मदद से ट्रेन को करीब एक घंटे बार इटारसी की ओर रवाना कर दिया गया। इंजन में आग लगने की जानकारी मिलते ही यात्रियों में हड़कंप मच गया था। लोको पायलट मातिन खान ने बताया कि दक्षिण एक्सप्रेस बैतूल रेलवे स्टेशन से 12.50 बजे घोड़ाडोंगरी की ओर रवाना हुई थी। धाराखोह से होकर जब ट्रेन घोड़ाडोंगरी के करीब पहुंची तभी इंजन के निचले हिस्से से तेज धुआं उठता दिखाई दिया। घोड़ाडोंगरी के रेलवे गेट के पास ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोक दी। जब नीचे उतरकर देखा तो इंजन के पहिये के उपरी हिस्से में आग लगी हुई थी। इंजन में रखे हुए अग्निशमन यंत्र की मदद से तत्काल ही आग बुझाई गई। आग पूरी तरह से बुझ जाने के बाद ट्रेन को बेहद धीमी गति से घोड़ाडोंगरी स्टेशन पहुंचाया गया और स्टेशन प्रबंधक को घटना की जानकारी दी गई। इंजन को ट्रेन से हटाकर धाराखोह स्टेशन से दूसरा इंजन बुलाया गया। इस प्रक्रिया में करीब एक घंटे तक ट्रेन घोड़ाडोंगरी स्टेशन पर खड़ा रखा गया। दूसरा इंजन लगाने के बाद ट्रेन को सुरक्षित तरीके से इटारसी की ओर रवाना किया गया। लोको पायलट खान के अनुसार इंजन के पहिये में लगे एक्सल में तकनीकी खराबी के कारण शायद वह गर्म हो गया और आग लग गई होगी। घोड़ाडोंगरी में पदस्थ आरपीएफ उप निरीक्षक संजय यादव ने बताया कि दक्षिण एक्सप्रेस के इंजन में आग लगने के कारण तेज धुंआं निकलता दिखाई दिया था। इस पर उसे स्टेशन पर रोका गया और दूसरा इंजन बुलाकर ट्रेन को इटारसी की ओर रवाना कर दिया गया। ट्रेन के लोको पायलट की सतर्कता के कारण किसी प्रकार की अनहोनी नहीं हो पाई।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local