बैतूल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के घोड़ाडोंगरी विकासखंड में स्थित छोटा महादेव भोपाली में सावन सोमवार पर पूजा करने के लिए पहुंचे आधा दर्जन से अधिक लोग पहाड़ी नदी में बाढ़ आ जाने के कारण बीच में फंस गए। नदी के बीच में सूखा पेड़ पड़ा हुआ था जिस पर चढ़कर सभी ने अपनी जान बचाई। नदी में तेजी से बढ़ रहे पानी के कारण सभी चीख पुकार लगाने लगे।

भोपाली में पूजा अर्चना करने के लिए पहुंचे सैकड़ों लोग नदी के बीच फंसे लोगों को बचाने के लिए गुहार लगाते रहे। ग्रामीणों ने रस्सी का इंतजाम किया और उसके सहारे सभी फंसे हुए लोगों को सुरक्षित किनारे पर पहुंचाया। बगडोना के अंकित यादव ने बताया कि छोटा महादेव में सावन सोमवार होने के कारण बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। आसपास के क्षेत्र में सुबह से हो रही तेज वर्षा के कारण छोटा महादेव के पास से गुजरने वाली पहाड़ी नदी में अचानक पानी बढ़ गया। इसी दौरान कुछ लोग नदी पार कर दूसरे किनारे पर जा रहे थे। बीच में पहुंचते ही पानी की स्तर बढ़ गया। नदी पार करने वाले घबरा गए और बीच में बहकर आए एक सूखे पेड़ पर चढ़कर अपनी जान बचाई। कुछ साहसिक लोगों ने तत्काल ही रस्सी लाकर पेड़ से बांधी और उसके बाद सभी को सुरक्षित नदी से बाहर निकाला।

सालबर्डी में नदी में बही जीप

जिले के आठनेर थाना क्षेत्र में आने वाले सालबर्डी स्थित शिव धाम में दर्शन करने आए लोगों की जीप नदी में आई बाढ़ में बह गई। ग्रामीण सागर ठाकुर ने बताया कि सोमवार शाम करीब 4ः30 बजे चांदूर बाजार से नौ लोग सावन सोमवार को बाबा भोलेनाथ के शिवधाम सालबर्डी में दर्शन करने आए थे। दर्शनार्थियों द्वारा जीप को गंगा मेल पुल के पास सड़क पर खड़ा कर दिया था और दर्शन करने मंदिर चले गए। तेज वर्षा के कारण नदी में आई बाढ़ से जीप बह गई। गांव के पास स्थित पुलिया के पास जीप पलटी अवस्था में पाई गई है जिसे निकालने का प्रयास किया जा रहा है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close