Bhind online ganja smuggling racket. अब्‍बास अहमद. भिंड.नईदुनिया। आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम से कढ़ी पत्ते के नाम से गांजा तस्करी के मामले में गोहद चौराहा थाना पुलिस ने एएसएसएल (अमेजन सर्विस सेलर लिमिटेड) अमेजन के निदेशकों को आरोपित बनाया है। पुलिस ने 13 नवंबर को दो आरोपितों को गिरफ्तार कर 21 किलो 734 ग्राम गांजा जब्त किया था। आनलाइन गांजा तस्करी में नाम आने के बाद अमेजन के वकील और ग्वालियर हब के स्टेशन इंचार्ज भिंड आकर एसपी मनोज कुमार सिंह से मिले थे। पुलिस ने अमेजन से ई-मेल से जानकारी मांगी थी। शनिवार को गोहद चौराहा थाना पुलिस ने अमेजन के कार्यकारी निदेशकों को एनडीपीएस एक्ट में आरोपित बनाया है। देश में किसी भी ई-कामर्स कंपनी के कार्यकारी निदेशकों पर एनडीपीएस एक्ट में यह पहली कार्रवाई है।

भिंड एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया 13 नवंबर 2021 को गोहद चौराहा थाना पुलिस ने आरोपित पिंटू उर्फ बृजेंद्र तोमर निवासी छींमका थाना गोहद चौराहा और सूरज उर्फ कल्लू पवैया निवासी आजाद नगर मुरार ग्वालियर को पकड़ा था। दोनों के पास से पुलिस ने 21 किलो 734 ग्राम गांजा जब्त किया था। यह गांजा आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम से बाबू टैक्स सेलर के जरिए अमेजन से डिलीवर किया गया था। इसके बाद पुलिस ने कल्लू के मामा के बेटे मुकुल जायसवाल निवासी नई सड़क ग्वालियर को पकड़ा। कल्लू और मुकुल जायसवाल ने अमेजन पर बाबू टैक्स के नाम से फर्जी कंपनी कढ़ी पत्ता बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था। कल्लू और मुकुल चुनिंदा ग्राहकों के पते पर अमेजन पर बाबू टैक्स का कढ़ी पत्ता बुक करते। विशाखापट्टनम से आरोपितों का साथी वासु अमेजन के जरिए कढ़ी पत्ते के नाम पर गांजा भेजता था।

गोहद चौराहा पुलिस ने पड़ताल के दौरान एक खरीदार चित्रा बाल्मीक निवासी मेहगांव को भी पकड़ा है। पुलिस ने आरोपितों पर एनडीपीएस एक्ट में केस दर्ज किया है। आनलाइन गांजा तस्करी में नाम आने पर अमेजन के वकील सुमंत नारंग, ग्वालियर हब स्टेशन इंचार्ज शशांक सिंह ने पिछले दिनों एसपी मनोज कुमार सिंह से मुलाकात की थी। एसपी का कहना है कि अमेजन द्वारा प्रदत्त दस्तावेजों के उत्तर और विवेचना में आये तथ्यों में भिन्नता के आधार पर एएसएसएल अमेजन कम्पनी के कार्यकारी निदेशकों के विरूद्ध स्वापक औषधियां और मनः प्रभावी पदार्थ अधिनियम (एनडीपीएस एक्ट) 1985 की धारा 38 के तहत आपराधिक कृत्य होने के कारण आरोपी बनाया गया है।

कढ़ी पत्ते के नाम पर अमेजन से गांजा की डिलीवरी की गई है। अब तक चार आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। अमेजन की ओर से आए जवाब और जांच के तथ्यों में भिन्नता मिली है। इसी आधार पर एएसएसएल अमेजन कंपनी के कार्यकारी निदेशकों को एनडीपीएस एक्ट में आरोपित बनाया गया है। मनोज कुमार सिंह, एसपी, भिंड

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local