भिंड/मुरैना। गर्भवती और प्रसूता महिलाओं को गांव-गांव से लाने और अस्पताल पहुंचाने में वाली 108 जननी एक्सप्रेस सेवा में कार्यरत स्टॉफ ने भिंड-मुरैना और दतिया में हड़ताल कर दी है। इनके पहिए थमने से अस्पताल आने-जाने के लिए प्रसूता और गर्भवती महिलाओं को रविवार को काफी परेशान होना पड़ा। हालत यह रही है कि वाहन नहीं मिलने पर परिजन महिलाओं को गोद में उठाकर अस्पताल तक ले गए। जननी एक्सप्रेस चलाने वाले वेंडर का कहना है कि जब तक उनका भुगतान नहीं होगा तब तक वाहन नहीं चलेंगे।

भिंड और दतिया में तीन महीने से 108 जननी एक्सप्रेस का जिगित्सा कंपनी द्वारा भुगतान नहीं किया गया। शनिवार दोपहर दो बजे से वेंडर ने सभी जननी एक्सप्रेस वाहन को जिला अस्पताल परिसर में खड़ी करवा दिया। इस दौरान कई गांव से महिलाएं निजी वाहनों से अस्पताल पहुंची तो कई जगह 108 वाहन की सेवाएं ली गईं।

जननी एक्सप्रेस वाहन संचालक रामशेष शर्मा ने बताया कि हम लोगों ने जिस समय अपने वाहनों का एग्रीमेंट किया था, उस समय पेट्रोल के दाम 65 रुपए प्रति लीटर थे अब दाम बढ़कर 85 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं। तब से लेकर अब तक कंपनी द्वारा एक रुपए भी नहीं बढ़ाया गया है। इससे हमें घाटा हो रहा है।

ई रिक्शा की व्यवस्था कराई : सीएमएचओ

भिंड सीएमएचओ डॉ. अजीत मिश्रा का कहना है कि 108 जननी एक्सप्रेस का भुगतान नहीं होने के कारण वेंडर ने गाड़ी खड़ी कर दी है। हमने अपने स्तर पर वेंडर से चर्चा कर ई-रिक्शा की व्यवस्था कराई है। ताकि अस्पताल से छुट्टी के बाद प्रसूताओं को घर जाने में परेशानी नहीं हो।

108 एंबुलेंस में बच्चे का जन्म

दतिया में रविवार को एक महिला को प्रसव पीड़ा हुई तो उन्होंने जननी एक्सप्रेस को कॉल कि या लेकि न जननी नहीं आई तो 108 एंबुलेंस वहां पहंुची और वह उसे अस्पताल लेकर आ रही थी। तभी रास्ते में उसने बच्चे को जन्म दिया। इसके बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। दतिया में भी दो दिनों से ठेके दार की ओर से जननी एक्सप्रेस को बंद कर दिया है। ठेके दार का कहना है, कि पिछले करीब तीन माह का करीब दो लाख से अधिक का भुगतान नहीं हुआ है।

मुरैना में अनावश्यक पेनल्टी लगा रही है कंपनी

मुरैना में हड़ताल पर गए वाहन चालकों ओर वाहन मालिकों का कहना है कि जिस निजी कंपनी से उनका अनुबंध है, वह एंबुलेंस मालिकों पर हर महीने अनावश्यक पेनल्टी लगा रही है।

Posted By: Sandeep Chourey

fantasy cricket
fantasy cricket