भिंड। नईदुनिया प्रतिनिधि

एक युवक घर से बिना हेलमेट के बाहर बाइक से बाजार जा रहा था। मां ने हेलमेट लगाकर जाने को कहा। मां के कहने पर युवक हेलमेट लेकर जाता है, लेकिन सिर पर लगाने की वजह हाथ में फसा लेता है। सड़क पर युवक मोबाइल पर बात करते हुए बाइक दौड़ा रहा था कि अचाक सामने से आ रही बाइक ने टक्कर मार दी। जिससे युवक सड़क पर गिर गया। इसके कारण सिर में गंभीर चोट आने से उस युवक की मौत हो गई। यह दृश्य दिखा रविवार को नुक्कड़ नाटक में। नुक्कड़ नाटक का मंचन एमजेएस कॉलेज के नाटक का मंचन किया। इस मौके पर ट्रैफिक प्रभारी नीरज शर्मा, सूबेदार आदित्य मिश्रा, एएसआई गौरीशंकर यादव, विपिन भदौरिया, फिरोज खान, दीपक पांडेय सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

दरअसल यातायात जागरूकता सप्ताह के तहत नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को बताया कि आखिर कैसे छोटी-छोटी लापरवाही बड़े हादसे का कारण बनती है। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत यातायात पुलिस ने शहर के मुख्य मार्ग जिला अस्पताल के सामने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से वाहन दुर्घटना को बता रही है। इसमें हेलमेट की भूमिका प्रमुख होती है।

यमराज ने शहरवासियों को बताए ट्रैफिक नियम

30वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत जिला अस्पताल पास, परेड चौराहे पर जागरूकता अभियान चलाया। यहां वाहन चालकों को फूल देकर नियम का पालन करने की हिदायत दी। यमराज के वेश में युवक ने बिना हेलमेट दोपहिया वाहन चलाने, तीन सवारी, मोबाइल पर बातचीत, सीट बेल्ट का इस्तेमाल न करने जैसे कई नियमों को लेकर शहरवासियों को जागरूक किया। इस दौरान लोगों ने यमराज के साथ सेल्फी ली।

ट्रैफिक नियमों का पालन करें

कार्यक्रम में नवजीवन सहायतार्थ संगठन से जुड़ी नीतेश जैन ने कहा कि यातायात के नियमों को सही ढंग से अपनाकर वाहन चालक खुद को सुरक्षति महसूस करने के साथ आने वाली दुर्घटनाओं से बच सकते हैं। बाइक पर चलते समय हेलमेट और गाड़ियों में चलते समय सीट वेल्ट बांधकर चलने वाले लोग हमेशा सुरक्षति रहते हैं। इस मौके पर श्रीमती जैन ने करीब एक दर्जन बाइक सवारों को हेलमेट बांटे जो बिना हेलमेट के बाइक चला रहे थे।