फूफ। नईदुनिया न्यूज

कस्बे में नगर परिषद अधिकारियों की अनदेखी के कारण वार्ड की गलियों में जगह-जगह गंदगी के अंबार लगे हुए हैं। साथ ही नाली की सफाई नहीं होने से गंदा पानी सड़कों पर आ रहा है,इससे लोगों को आने-जाने में परेशानी हो रही है। स्थानीय लोग कई बार कचरा हटाने के साथ नाली की सफाई कराने के लिए नगर परिषद से अधिकारियों से शिकायत कर चुके हैं। बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

नगर में सबसे अधिक हालत खराब वार्ड 2, 4, 6 और 14 है। यहां कचरा नहीं उठने के कारण नालियों में पहुंच रहा है। जिससे नाली जाम हो गईं हैं और गंदा पानी सड़क पर आ रहा है। ऐसे में सबसे अधिक परेशानी छोटे बच्चों को हो रही है। रहवासी अभिषेक शर्मा निवासी वार्ड 2 ने बताया कि नगर परिषद हर महीने सफाई के नाम पर लाखों रुपए खर्च कर रही है। सफाईकर्मी नियमित वार्ड में नहीं आ रहे हैं । ऐसे में लोग परेशान हो रहे रहे हैं। बताया जाता है कि वार्ड 4 में 1 महीने से कोई सफाई कर्मचारी सफाई करने के लिए आते ही नहीं है। जिससे नालियां चौक हो गई हैं। रहवासी धर्मेन्द्र राजावत निवासी वार्ड 4 ने बताया कि नगर में कर्मचारी डोर-टू-डोर कचरा लेने नहीं आ रहे हैं। इससे स्थानीय लोग एक जगह कचरा को इकट्ठा कर देते है। साथ ही जब तेज हवाएं चलने के साथ वह कचरा नालियों में भर जाता है।

रहवासी बदबू से परेशानः

स्थानीय वार्ड 6 निवासी अरुण शर्मा ने बताया कि मोहल्ले में सफाई कर्मचारी एक-दो दिन छोड़कर वार्ड में सफाई करने के लिए आते है। इससे वार्डों में में जगह-जगह कचरे के डेर लगे हुए है। साथ ही यह कचरा को उठाने के लिए कचरा गाड़ी भी नहीं आती है। वह कचरा में बदबू आनी लगती है। इससे लोगों को बहुत परेशानी है। साथ ही बीमारी फैलने का भी डर बना रहता है।