भिंड। नईदुनिया प्रतिनिधि

पूर्व विधाायक के छोटे भाई भाजपा नेता ने बुधवार को लहार कस्बे में अपने बेटों और साथियों के साथ बीजासेन रोड तिराहा और महाते पेट्रोलपंप के पास बंदूकों से ताबड़तोड़ फायरिंग की। फायरिंग में गोली तो किसी को नहीं लगी हैं। जबकि 2 वाहन गोली लगने से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। पुलिस पुलिस ने रात में ही 1.48 मिनट में पूर्व विधायक के भाई और 2 भतीजों और 2 अन्य लोगों के खिलाफ हत्या प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है। लहार पुलिस का कहना है कि आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस संभावित स्थानों पर दबिश दे रही है। बताया जाता है कि घटना रेत उत्खनन को लेकर बताई जा रही है, लेकिन पुलिस अधिकारी इस तरह की बात को पूरी तरह से नकार रहे हैं।

पहली घटना :

बृजेन्द्रसिंह 34 पुत्र सतेन्द्रसिंह भदौरिया निवासी छिरिया थाना रेढर जिला जालौन हाल वृत्ताकार सोसायटी के पीछे लहार ने बताया कि बुधवार को वह भीकमपुरा रोड स्थित अपने दोस्त राजीव शर्मा के घर से खाना खाकर अंकुर दुबे के साथ बोलेरो क्रमांक एमपी 30 सी 3155 से अपने घर लौट रहे थे। भीकमपुरा तिराहे पर गाड़ी रोककर बृजेन्द्र बाथरूम करने लगे। रात 11.30 बजे वहां काली स्कार्पियो से धीरेन्द्रसिंह राजपूत पुत्र योगेन्द्रसिंह निवासी मलपुरा हाल स्नेह नगर और दूसरी गाड़ी से छोटू राजपूत पुत्र योगेन्द्र सिंह राजपूत निवासी स्नेह नगर बंदूक लेकर गाड़ी से उतरे और गालियां देने लगे। जब गाली देने से मना किया तो धीरेन्द्रसिंह और छोटू राजपूत ने 3 से 4 फायर किए। गाड़ी में आड़ लेकर बृजेन्द्र और अंकुर ने अपनी जान बचाई। फायरिंग की आवाज सुनकर मोनू तोमर व अन्य लोग वहां आ गए। दोनों गाड़ियां पचपेड़ा चौराहे की ओर भाग गईं। बृजेन्द्रसिंह रिपोर्ट लिखाने के लिए मोनू तोमर और अंकुर दुबे के साथ थाने पहुंचें।

दूसरी घटना :

जयप्रताप सिंह उर्फ मोनू तोमर 32 पुत्र सुरजीतसिंह तोमर निवासी ब्लॉक कॉलोनी के मुताबिक बृजेन्द्र सिंह पर हुई फायरिंग के बाद वह थाने में उनके साथ रिपोर्ट लिखवाने गए थे। रिपोर्ट लिखवाकर वह अपने दोस्त विनोदसिंह वैस पुत्र राजेन्द्रसिंह बैस निवासी जेल रोड के सामने बुद्धपुरा को अपने रिश्तेदार की डस्टर गाड़ी क्रमांक एमपी 30 सी 6766 से छोड़कर अपने घर लौट रहे थे। रात 2 बजे जैसे ही वह महाते पेट्रोलपंप के आगे स्नेह नगर कॉलोनी रोड से निकले, तो पहले से ही घात लगाए बैठे भाजपा नेता योगेन्द्रसिंह उर्फ पप्पू हाथ में बंदूक, धीरेन्द्रसिंह पुत्र योगेन्द्रसिंह हाथ में पत्थर, छोटू पुत्र योगेन्द्रसिंह निवासी स्नेहनगर हाथ में बंदूक और मोनू कटले खान हाा में एक कट्टा लिए खड़े थे। चारों लोगों ने उनकी गाड़ी रोकने का प्रयास किया, जब गाड़ी नहीं रोकी तो पत्थर फेंकने के साथ ही 3-4 फायर किए।

1.48 घंटे में 2 हत्या प्रयास की एफआईआर दर्ज

लहार पुलिस ने 1 घंटे 42 मिनट के अंतराल में पूर्व विधायक के भाई और भतीजों पर 2 हत्या प्रयास की एफआईआर दर्ज की हैं। इसमें 1.42 बजे पहली एफआईआर बृजेन्द्रसिंह भदौरिया की रिपोर्ट पर धीरेन्द्रसिंह राजपूत, छोटू राजपूत, छोटू बंसल और 1 अन्य के खिलाफ दर्ज की। जबकि जयप्रतापसिंह उर्फ मोनू तोमर की रिपोर्ट पर रात 3.30 बजे भाजपा नेता योगेन्द्रसिंह, उनके बेटे धीरेन्द्र, छोटू और मोनू खान के खिलाफ हत्या प्रयास का मामला दर्ज किया है।

लहार में गर्माएगी राजनीति

पूूर्व विधायक के भाई और भतीजों पर मामला दर्ज होने के बाद लहार की राजनीति गरमाएगी । इसकी वजह लहार विधानसभा से पिछले 2 विधानसभा चुनाव में भाजपा ने पूर्व विधायक रसालसिंह को सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंदसिंह के सामने उतारा है। 2018 और 2013 के चुनाव में डॉ. सिंह ने पूर्व विधायक को हराया है। इसके चलते सहकारिता मंत्री और पूर्व विधायक को एक-दूसरे को राजनीति के मैदान को घुर विरोधी माना जाता है। मामले में पूर्व विधायक से संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन उनका फोन बंद बताया गया है।

शहर में अग्रवाल कॉलोनी में फायरिंग हुई

श्यामसिंह पुत्र गंभीरसिंह भदौरिया निवासी अग्रवाल कॉलोनी ने बताया कि गुरुवार को वह घर पर थे, तभी अटेर रोड निवासी नीलेश ओझा, राजू यादव, अमित यादव और रिंकल ओझा घर में घुस आए और सामान फेंकने लगे। जब उन्होंने विरोध किया तो आरोपितों ने मारपीट कर कट्टे से 2-3 फायरिंग किए और वहां से भाग गए। घटना की सूचना मिलते ही सिटी कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई।

वर्जन :

बुधवार रात पूर्व विधायक के भाई और भतीजों ने अलग-अलग जगह फायरिंग की थी। इसमें फरियादी बाल-बाल बच गए। पुलिस ने दोनों घटनाओं में 5 नामजद और एक अज्ञात के खिलापु हत्या प्रयास का मामला दर्ज किया है।

दिलीपसिंह यादव, टीआई लहार

फोटो सहित क्रमांक 13,16,17

Posted By: