Bhind News भिंड, लहार। लहार कस्बे के भीकमपुरा रोड पर एसडीएम ने फूड सेफ्टी ऑफिसरों के साथ मिलावटी दूध पर बड़ी कार्रवाई की। एसडीएम ने 5 हजार लीटर दूध से भरे टैंकर को पकड़ा है। प्रशासन ने 2.30 घंटे में दबोह स्थित सांची डेयरी के कलेक्शन सेंटर सैंपल भेजकर जांच कराई। दूध अमानक पाए जाने पर सड़क किनारे दूध को नष्ट कराया। साथ ही वाहन को कार्रवाई के लिए थाने भिजवाया। लहार एसडीएम ओमनारायणसिंह को सूचना मिल रही थी, कि लहार क्षेत्र में उत्पादन से अधिक दूध की सप्लाई बाहर जा रही है। मंगलवार को एसडीएम फूड सेफ्टी ऑफिसर रीना बंसल, राजेश गुप्ता और बृजेश शिरोमणि, बीएमओ हर्षवर्धन गुप्ता को लेकर भीकमपुरा रोड पर पहुंचे। इसी दौरान सामने से टैंकर क्रमांक एमपी 30 जी 0356 आता दिखाई दिया। एसडीएम ने टैंकर को रुकवाकर ड्राइवर वीरप्रतापसिंह निवासी चौरई से दूध परिवहन का लाइसेंस मांगा तो वह नहीं दिखा पाया। ड्राइवर ने बताया कि दूध आलमपुर क्षेत्र से लेकर आ रहा है।

2.30 घंटे में सैंपल की रिपोर्ट मंगाई

एसडीएम और बीएमओ ने टैंकर से दूध का सैंपल लेकर चेक किया तो उसमें केमिकल की दुर्गंध आ रही थी। फूड सेफ्टी ऑफिसर ने टैंकर से दूध के सैंपल भरे। साथ ही इतनी बड़ी मात्रा में दूध को कहां रखवाया जाए। इसलिए एसडीएम ने एक सैंपल लेकर दबोह स्थित सांची डेयरी के कलेक्शन सेंटर पर जांच के लिए भेजा। यहां से 2.30 घंटे में जांच रिपोर्ट आ गई। रिपोर्ट में दूध में अमानक बताया गया। एसडीएम ने दूध को सड़क किनारे नष्ट करवा दिया। एसडीएम के मुताबिक दूध की कीमत करीब 2 लाख रुपए है। साथ ही दूध को नष्ट करवाकर करीब 10 हजार लोगों की जान से खिलवाड़ होना बच गया। साथी ही वाहन को लहार थाने भिजवा दिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket