आलमपुर। नईदुनिया न्यूज

आलमपुर के रतनपुरा मार्ग तक 10 किमी है। जिसमें बस स्टैंड से विजयमंच चौराहा तक सड़क कच्ची थी। जिसे कुछ 4 साल पहले पीडब्ल्यूडी कंपनी के द्वारा बनाने का काम किया गया था। लेकिन कंपनी के ठेकेदार रामेंद्रसिंह के द्वारा सड़क पर 400 मीटर का सड़क बनाने के लिए छोड़ दी है। जिससे लोगों को आने-आने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही इस रूट से निकलने वाले वाहन को चालकों को वाहन चलाने में भी बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कंपनी ने 400 मीटर की सड़क बनाना छोड़ाः

आलमपुर से बस स्टैंड से विजयमंच चौराहा में पीडब्ल्यूडी कंपनी के सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन काम भी बहुत धीरे-धीरे गति से कर रही है। बल्कि 4 साल से कंपनी मुख्य बाजार में 400 मीटर की सड़क का टुकड़ा छोड़ दिया हैं। साथ ही कंपनी के ठेकेदार के द्वारा आलमपुर के मुख्य बाजार में बस स्टैंड से लेकर विजयमंच चौराहा तक 400 मीटर सड़क पर गिट्टी डालकर रास्ता छोड़ दिया है। जिससे उस 400 मीटर के रास्ते में आए दिन बाइक सवार युवक गिरकर घायल हो जाते है। साथ ही ग्रामीणों को भी सड़क नहीं बनी होने से बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इस रूट से हजारों की संख्या में वाहन निकलतेः

स्थानीय लोगों ने बताया कि इस रास्ते से 24 घंटे वाहन निकलते है। यहां इस मुख्य बाजार से कई जगह जाने के लिए वाहन इस सड़क से आवागमन करते है। यहां से चालकों को वाहन चलाने में बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही यात्रियों भी इस गिट्टी डाली होने से बहुत परेशानी हो जाते है। क्योंकि 400 मीटर रास्ते में गिट्टी डाली होने से कार और बाइक में ब्रेकर लगते है। जिससे यात्री परेशानी हो जाते है।

वर्जनः फोटो सहित

आलमपुर बस स्टैंड से लेकर विजयमंच चौराहा तक कंपनी के द्वारा सड़क पर गिट्टी डालकर छोड़ दिया है। जिससे घर के बाहर बच्चों को भी खेलने के लिए परेशान होना पड़ता है।

बृजभूषण मिश्रा, स्थानीय निवासी

वर्जनः फोटो सहित

400 मीटर सड़क पर डली गिट्टी के ऊपर सड़क बनवाने के लिए कई बार अधिकारियों से शिकायत कर चुके है। लेकिन अधिकारी इस समस्या पर ध्यान नहीं दे रहे है।

राममिलन परिहार,स्थानीय निवासी

वर्जनः फोटो सहित

इस सड़क पर गिट्टी डले हुए 4 साल हो गए। लेकिन सड़क को नहीं बनवाया जा रहा है। इससे सड़क पर आए दिन बाइक सवार युवक गिरकर घायल हो रहे है। साथ ही वाहन चालकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

अजीतसिंह पटेल, स्थानीय निवासी

वर्जनः फोटो सहित

यहां से 20 किमी दूर रतनगढ़ वाली माता मंदिर पर त्योहार के दिन मेला लगता है। इस रोड से हजारों की संख्या में लोग मेला देखने पैदल जाते है। इससे माता के मंदिर तक पहुंचने के भी परेशानी आ रही है।

, स्थानीय निवासी

वर्जनः फोटो सहित

यहां इस सड़क पर गिट्टी डाली होने से स्थानीय लोगों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। जबकि सबसे ज्यादा उन छोटे-छोटे बच्चों को जो घर के बाहर गिट्टी के वजह से खेल तक नहीं पा रहे है।

, स्थानीय निवासी

वर्जनः

आलमपुर बस स्टैंड से विजयमंच चौराहा तक गिट्टी डालकर रास्ता छोड़ दिया है। वह काम पीडब्ल्यूडी कंपनी ने किया था। वह उसके अधीन ही आता है। कोरोना महामारी के बाद कंपनी को पत्र लिखकर अवगत कराएंगें।

राजेंद्र मौर्य, नायब तहसीलदार आलमपुर

फोटो सहित क्रमांक 24

Posted By: Nai Dunia News Network