लहार विधायक के निवास के पास स्थित एटीएम से दोबारा कैश पार करने के दौरान पकड़ा गया हैकर

भिंड(नप्र)। लहार थाना पुलिस ने पूर्व मंत्री विधायक डॉ. गोविंद सिंह के निवास के पास स्थित एसबीआइ के एटीएम बूथ से एक हैकर को पकड़ा है। पकड़ में आया हैकर दतिया जिले का रहने वाला है। हैकर ने एसबीआइ के एटीएम बूथ के कैश डिस्पेंसर का शटर होल्ड कर पिछले एक माह में करीब 17 लाख रुपए पार कर लिए हैं। लहार थाना पुलिस हैकर्स से उसके साथियों के बारे में पूछताछ कर रही है। पुलिस ने एटीएम बूथ मेंटेनेंस और सिक्युरिटी कंपनी के मैनेजर की रिपोर्ट पर हैकर्स पर केस दर्ज कर लिया है।

लहार-मिहोना के एटीएम बूथ पर हो रही थीं वारदात :

लहार थाना प्रभारी कुशल सिंह भदौरिया ने बताया कि फायनेंसियल सॉफ्टवेयर एण्ड सिस्टम कम्पनी मे टेरेटरी मैनेजर दिव्य कुमार राय पुत्र रवींद्र कुमार राय निवासी मनिया मिर्जावाद थाना भांवरकोल जिला गाजीपुर उ.प्र. हाल ओम अपार्टमेन्ट 202 सिटी सेंटर यूनिवर्सिटी रोड ग्वालियर ने बताया कि उनकी कंपनी ग्वालियर जोन के 14 जिलों में एसबीआइ के एटीएम में कैश जमा करवाने, मेंटेनेंस और सिक्युरिटी संबंधी काम संभालती है। इसमें भिंड जिला भी शामिल है। मैनेजर ने पुलिस को बताया कि करीब एक माह से देखने में आ रहा है कि भिंड जिले में लहार और मिहोना के एसबीआइ के एटीएम बूथ से लगातार एटीएम में एरर क्रिएट करके कार्डधारी की ओर से बैंक से यह शिकायत की जा रही है कि अकाउंट से पैसा डेबिट हो गया है किन्तु प्राप्त नहीं हुआ है। इस शिकायत पर एसबीआइ व्दारा संबंधित बैंक को आरबीआइ की गाइड लाइन के अनुसार तीन दिन की समय-सीमा में शिकायतकर्ता को उसकी रकम वापस करना होती है। मैनेजर राय ने बताया कि भिंड जिले के एटीएम बूथ से पिछले एक माह में हैकर्स ने 17 लाख रुपए पार कर लिए हैं।

हैकर ऐसे उड़ा देता था एटीएम बूथ से रकमः

मैनेजर ने पुलिस को दिए आवेदन में बताया कि एरर की लगातार शिकायतें आने पर एटीएम बूथ के कैमरों की मॉनीटरिंग करना शुरू की तो पाया लहार में पूर्व मंत्री विधायक डॉ. गोविंद सिंह के निवास के पास स्थित एटीएम नंबर ङखळव 030124006 में कुछ संदिग्ध व्यक्ति एटीएम को ऑपरेट कर रहे हैं। एटीएम में कार्ड उपयोग करने के बाद जैसे ही रूपये कैश डिस्पेंसर की शटर में आता है तो रुपये निकालकर हाथ से या अन्य किसी वस्तु से शटर को होल्ड कर देते हैं। शटर को बंद नहीं होने देते हैं, जिसकी वजह से एटीएम में एरर क्रिएट हो जाता है और उसके शटर को करीब 30-45 सेकंड तक होल्ड रखते है और उसके बाद चले जाते हैं। एरर होने से माना जाता है संबंधित व्यक्ति को तकनीकी खामी की वजह से पैसा नहीं मिला, लेकिन उसके खाते से डेबिट हो गया।

दो दिन पहले दो बार में 20 हजार निकालेः

मैनेजर ने पुलिस को दिए आवेदन में बताया कि दिनांक 13 सितंबर 21 को एक व्यक्ति ने लहार विधायक के निवास के पास स्थित एटीएम बूथ में कैश डिस्पेंसर के शटर को होल्ड कर दो बार में 10-10 हजार करके 20 हजार रुपये निकाले, यह पूरी प्रक्रिया सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। यहां बता दें, एटीएम बूथ से रकम पार करने वाला यह हैकर बुधवार को दोबारा से इसी बूथ पर आया था। बूथ पर तैनात सुरक्षा गार्ड दीपेंद्र यादव ने पुलिस बुलाकर आरोपित को पकड़वाया दिया। गार्ड से मिली सूचना के बाद मैनेजर राय लहार थाने पहुंचे। पकड़ में आए आरोपित ने अपना नाम राकेश पाल पुत्र महाराज सिंह पाल निवासी बीसलपुरा पंडोखर जिला दतिया बताया।

वर्जनः

एटीएम बूथ के शटर को होल्ड कर रकम उड़ाने वाले गिरोह का एक आरोपित पकड़ा है। इसके ओर साथियों की तलाश की जा रही है। आरोपित से पूछताछ की जा रही है कि उसने इस तरह से और कहां के एटीएम बूथ से रकम उड़ाई है।

कुशल सिंह भदौरिया, टीआइ, थाना लहार

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local